Bageshwar Dham: जानिए कौन है धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री, जो सोशल मीडिया पर है छाएं

WRITTEN BY Akhil Singhal2023-01-23,11:45:43 news

बागेश्वर धाम सरकार

बागेश्वर धाम बालाजी को समर्पित पवित्र तीर्थ स्थल है। जहां हर साल हजारों भक्त अपनी मनोकामना लेकर दरबार में आते है। यह मध्यप्रदेश के छतरपुर जिले में स्थित है।

Image Credit - Instagram

कौन है धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री?

धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री बागेश्वर धाम सरकार के मुख्य पुजारी और पीठाधीश्वर हैं। इनका असलियत नाम धीरेंद्र गर्ग है, जिनका जन्म 4 जुलाई 1996 को मध्य प्रदेश में छतरपुर के गड़ा में हुआ था।

Image Credit - Instagram

भगवान हनुमान की करते है कथा

कथावाचक धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री भगवान हनुमान की कथा करते है।

Image Credit - Instagram

पंडाल में रहती है भारी भीड़

धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री के कथा पंडाल में बहुत भीड़ भी रहती है। जिसके पीछे भक्तों की श्रद्धा और चमत्कार होने जैसी बातें है।

Image Credit - Instagram

लाखों भक्त करते है फॉलो

धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री को लाखों-करोड़ों भक्त फॉलो करते है। सोशल मीडिया पर आए दिन उनकी फोटोज-वीडियो भी वायरल होती रहती है।

Image Credit - Instagram

स्कूली शिक्षा

धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने गंज गांव के सरकारी स्कूल से अपनी हाईस्कूल तक की पढ़ाई की।

Image Credit - Instagram

गरीबी में बीता बचपन

धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री एक कच्चे मकान में अपने पूरे परिवार के साथ रहते थे। उनका बचपन बहुत गरीबी में बीता। उनकी मां का नाम श्रीमति सरोज और उनके पिता का नाम पंडित श्री रामकृपाल गर्ग है।

Image Credit - Instagram

अपने बाबा से ली दीक्षा

माना जाता है कि बागेश्वर धाम सरकार की स्थापना धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री के दादा संन्यासी बाबा सेतुलाल गर्ग ने की थी। इन्हीं से धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने दीक्षा ली।

Image Credit - Instagram

छोटी उम्र से ही शुरू कर दी थी सेवा

धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री के अनुसार, उन्होंने 8-9 साल की उम्र में ही बागेश्वर बालाजी की सेवा करनी शुरू कर दी थी और 12-13 साल की उम्र में उन्हें हनुमान जी की विशेष कृपा का अनुभव होने लगा था।

Image Credit - Instagram

राजनीतिक हस्तियां कर चुकी है शिरकत

बागेश्वर धाम में केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी, देवेन्द्र फडणवीस समेत कई राजनीतिक हस्तियां दर्शन करने आ चुकी है।

Image Credit - Instagram

कागज पर लिखकर पहले ही बता देता है समस्या

धीरेंद्र शास्त्री को लेकर माना जाता है कि वे भक्तों की समस्याओं को बिना पूछे पहले ही कागज पर लिख देते है और उपाय भी बताते है।

Image Credit - Instagram

26 जनवरी को ही क्यों मनाते है गणतंत्र दिवस, जानिए इस दिन का महत्व