सिर्फ Records ही नहीं, बल्कि देश के प्रति यह जुनून बनाता है Sachin Tendulkar को ‘क्रिकेट का भगवान’

Publish Date: 15 Nov, 2022
सिर्फ Records ही नहीं, बल्कि देश के प्रति यह जुनून बनाता है Sachin Tendulkar को ‘क्रिकेट का भगवान’

Sachin Tendulkar Debut Match: 15 नवंबर की तारीख क्रिकेट के इतिहास से बहुत ही मायने रखती है। दरअसल, 33 साल पहले साल 1989 में इसी तारीख वाले दिन भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर ने अपने अंतरराष्ट्रीय करियर का आगाज किया था। सचिन ने इस मैच में 24 गेंद में 15 रन बनाए थे, लेकिन इस मैच में एक घटना ऐसी घटी, जिसने सचिन को पहले ही मैच में बड़ा स्टार बना दिया था। 

नाक पर लगी गेंद तो बहने लगा था खून 

दरअसल, पाकिस्तान के खिलाफ सियालकोट के मैदान पर चौथा टेस्ट मैच में टीम इंडिया ने 22 रन पर ही अपने 4 विकेट गंवा दिए थे। ऐसे में छठे नंबर पर बल्लेबाजी करने आए 16 साल के सचिन  ने जब पाकिस्तानी गेंदबाज वकार युनुस की दूसरी गेंद को हुक करने का प्रयास किया तो बल्ले का किनारा लेते हुए वह गेंद सचिन की नाक से टकराई।

जिसके बाद सचिन पिच पर गिर गए और उनकी नाक से बहुत तेजी से खून बहने लगा था और वो काफी दर्द में भी थे। ऐसे में सबको लगने लगा था कि सचिन अब रिटायर्ड हर्ट होकर मैदान से बाहर चले जायेंगे, लेकिन सचिन ने मैदान से बाहर जाने की बजाय धीमी आवाज में कहा- मैं खेलेगा। 

विश्व क्रिकेट में सचिन का है बहुत आदर

सचिन के सैंकड़ों रिकार्डस के साथ ही अपने देश के प्रति खेलने का यही जुनून उन्हें एक खिलाड़ी से क्रिकेट का भगवान होने का दर्जा देता है। यही वजह है कि सचिन के प्रति लोगों के मन में न केवल एक दीवानगी है, बल्कि उनका आदर भी है। सचिन के रिटायरमेंट को 9 साल पूरे हो जाने के बाद भी आज भी जब सचिन मैच देखने आते है, तो पूरा मैदान सचिन........सचिन की आवाज से गूंज उठता है। 

Related Videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept