यूपी के 7 जिलों ने नीति आयोग की 'डेल्टा रैंकिंग' में लहराया परचम, देखें किसने टॉप 10 में बनाई अपनी जगह

Publish Date: 14 Oct, 2021
Jagran यूपी के  7 जिलों ने नीति आयोग की 'डेल्टा रैंकिंग' में लहराया परचम, देखें किसने टॉप 10 में बनाई अपनी जगह

योगी सरकार के लिए एक उत्साहजनक विकास के रूप में, उत्तर प्रदेश के 7 जिलों ने सरकार के थिंक टैंक नीति आयोग द्वारा अगस्त महीने 2021 के लिए जारी 'डेल्टा रैंकिंग' में शीर्ष 10 सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले टॉप जिलों में रैंक हासिल किया है। देश भर के 112 जिलों को नीति आयोग के 'आकांक्षी जिलों का परिवर्तन' कार्यक्रम में शामिल किया गया है, जिसका मूल्यांकन 5 व्यापक सामाजिक-आर्थिक विषयों - स्वास्थ्य और पोषण, शिक्षा, कृषि और जल संसाधन, वित्तीय समावेशन और कौशल विकास और बुनियादी ढांचा शामिल है।


Top 7 Districts List 

सिद्धार्थनगर, बहराइच, सोनभद्र, श्रावस्ती, फतेहपुर, चित्रकूट और चंदौली जिलों को शीर्ष -10 जिलों में रखा गया है। रैंकिंग नीति आयोग द्वारा अपने रीयल-टाइम मॉनिटरिंग डैशबोर्ड http://championsofchange.gov.in  के माध्यम से जारी की गई थी। बता दें कि डेल्टा रैंकिंग राज्य सरकार और संबंधित जिलाधिकारियों द्वारा अल्प विकसित जिलों के विकास और सुधार के लिए किए गए प्रयासों को दर्शाती है।



Niti Aayog के अनुसार कौन से जिले ने मारी बाजी

नीति आयोग के तय मानकों पर काम करते हुए फतेहपुर ने पूरे देश में विकास के क्षेत्र में दूसरा स्थान हासिल किया है। इसके बाद सिद्धार्थनगर तीसरे, सोनभद्र चौथे, चित्रकूट पांचवें, बहराइच सातवें, श्रावस्ती आठवें और चंदौली नौवें स्थान पर हैं। उत्तर प्रदेश के आठ आकांक्षी जिलों में से चित्रकूट और बहराइच ने नीति आयोग के मानकों पर उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है। नतीजतन, नीति आयोग ने इन जिलों को विकास कार्यों के लिए अतिरिक्त बजट आवंटित किया है। नीति आयोग की समग्र डेल्टा रैंकिंग में चित्रकूट ने शिक्षा, स्वास्थ्य, पोषण समेत कई मानकों पर देश में पांचवां स्थान हासिल किया है।



यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept