Afghanistan Crisis: Taliban के मुद्दे पर सरकार ने बुलाई सर्वदलीय बैठक, मल्लिकार्जुन खड़गे ने महिला नेता को डिपोर्ट का मुद्दा

Publish Date: 26 Aug, 2021 |
 

 

Afghanistan Crisis: अफगानिस्तान के मुद्दे पर मोदी सरकार काफी समय से खामोश थी, लेकिन अब इस पर केंद्र सरकरा ने सर्वदलीय बैठक बुलाई है। जिसमें सभी नेताओं ने अफगान मुद्दे पर चर्चा की। इस बैठक में विदेश मंत्री एस जयशंकर से संसद के दोनों सदनों में सभी राजनीतिक दलों के नेताओं को जानकारी दी।वहीं संसदीय कार्य मंत्रालय द्वारा बुलाई गई बैठक में शीर्ष केंद्रीय मंत्रियों ने भाग लिया। इनमें रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, राज्यसभा में सदन के नेता पीयूष गोयल, जो केंद्रीय कपड़ा, वाणिज्य मंत्री,  संसदीय कार्य मंत्री प्रल्हाद जोशी शामिल हुए।

वहीं प्रह्लाद जोशी ने ट्वीट कर लिखा कि, ‘‘राजनीतिक पार्टियों के संसदीय दलों के नेताओं को विदेश मंत्री डा. एस जयशंकर द्वारा अफगानिस्तान की वर्तमान स्थिति के बारे में 26 अगस्त, पूर्वान्ह्र 11 बजे मुख्य समिति कक्ष, संसद भवन सौंध, नई दिल्ली में जानकारी दी जाएगी। ईमेल के जरिए आमंत्रण भेजे जा रहे हैं। सभी संबंधित लोगों से शरीक होने का अनुरोध किया जाता है।’’

मल्लिकार्जुन खड़गे ने उठाया महिला नेता को डिपोर्ट का मुद्दा

वहीं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि, "यह पूरे देश की समस्या है। हमें लोगों और राष्ट्र के हितों के लिए मिलकर काम करना होगा। उन्होंने हमें वेट एंड बॉच के लिए कहा। सभी दलों ने एक ही विचार रखा है। इसका मतलब है कि अभी दूसरे देशों का क्या रुख रहेगा तालिबान के बारे में, उनके बारे में, ये सब चीजें बाद में बताई जाएंगी। दूसरा मुद्दा हमने जो कहा था एक महिला डिप्लोमेट...जिसको डिपोर्ट किया गया था...तो उन्होंने कहा था कि हो गई गलती, ऐसा आइंदा नहीं होगा...इसका हम देखेंगे। और बाकी जो चीजें स्टूडेंट्स हैं, अफगानिस्तान के नागरिक जो यहां हैं उनके हित के बार में भी देखा जाएगा।"

 

Related videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept