Shoaib Akhtar ने Team India को दी चुनौती, कहा- हम से घबराती है ये टीम

Publish Date: 07 Nov, 2022
Shoaib Akhtar ने Team India को दी चुनौती, कहा- हम से घबराती है ये टीम

T20 World Cup 2022: अगर इस टूर्नामेंट में सबसे लक्की टीम की बात की जाएं, तो वह पाकिस्तानी टीम है। इसके पीछे की वजह यह है कि इस बार टूर्नामेंट की शुरूआत में पाकिस्तान की टीम को अपने लगातार दो मैचों में भारत और जिम्बाबे टीम से शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा था। लगातार दो मैचों की हार के बाद पाकिस्तान की सेमीफाइनल में जाने की संभावना भी बिल्कुल कम हो गई थी, लेकिन अपने आखिरी तीन मुकाबले में मिली जीत और नीदरलैंड की अफ्रीका पर जीत के बाद समीकरण बिल्कुल ही पलट गए। जिसके चलते पाकिस्तान का सेमीफाइनल में मुश्किल प्रवेश भी संभव हो गया। 

पाकिस्तानी समर्थकों के बीच जश्न का माहौल 

वहीं, पाकिस्तान के सेमीफाइनल में जाने के बाद से ही पाकिस्तानी समर्थक काफी खुश हो रहे है। इतना ही नहीं पाकिस्तानी समर्थक तो जमकर जश्न भी बना रहे है। हालांकि, इस सेमीफाइनल में जाने की खुशी में वे अब भारत को भी फाइनल में देख लेने और सावधान रहने जैसी बातें लिखकर पाकिस्तान के कप जीतने तक का दावा कर रहे है। लेकिन फाइनल में जाने के लिए पाकिस्तान को पहले न्यूजीलैंड को सेमाइफाइनल में हराना होगा। जो कि सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर 9 नवंबर (बुधवार) को खेला जाना है। 

न्यूजीलैंड हम से घबराता हैं : शोएब अख्तर

इसी कड़ी में, पाकिस्तान के पूर्व खिलाड़ी शोएब अख्तर ने अपने यूट्यूब पर वीडियो शेयर करते हुए कहा, 'पाकिस्तान हमेशा से ही न्यूजीलैंड पर काफी हावी रहा है। न्यूजीलैंड का ट्रैक रिकॉर्ड ये है कि वो हम से घबराते हैं। पाकिस्तान के खिलाफ न्यूजीलैंड का रिकॉर्ड कुछ ज्यादा खास भी नहीं है। सेमीफाइनल में वो (न्यूजीलैंड) हम से बहुत ज्यादा फंस जाते हैं।'

फाइनल में भिड़ने की जताई इच्छा 

इसके अलावा शोएब अख्तर ने भारत के साथ फाइनल मुकाबले की बात कहते हुए आगे कहा, ‘ अब मसला ये रह गया है कि हमें इंडिया से दोबारा मिलना है या नहीं। आप लोग कह रहे थे कि हम बाहर हो गए हैं। अभी ठहर जाएं अभी आपसे हमें दोबारा मिलना है। अगर इंडिया और पाकिस्तान फाइनल में पहुंचती हैं तो बेहतर है।'

Related Videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept