जानें क्या हुआ था फाइनल से पहले जब नीरज चोपड़ा का भाला ले गए थे पाकिस्तान के अरशद नदीम

Publish Date: 25 Aug, 2021
Google जानें क्या हुआ था फाइनल से पहले जब नीरज चोपड़ा का भाला ले गए थे पाकिस्तान के अरशद नदीम

 

 

टोक्यो ओलंपिक भारत के लिए अब तक सबसे सफल ओलंपिक रहा है। भारत ने इस बार 7 मेडल अपने नाम किए हैं। ओलिंपिक में भारत के नीरज चोपड़ा ने जैवलिन थ्रो में गोल्ड जीतकर इतिहास रच दिया है। नीरज चोपड़ा ने 87.58 मीटर भाला फेंककर गोल्ड मेडल अपने नाम किया। नीरज के अलावा जिस खिलाड़ी पर भारतीयों की नजरें रही वो थे पाकिस्तान के अरशद नदीम। नदीम कोई मेडल तो नहीं जीत पाएं लेकिन उनके प्रदर्शन की हर जगह तारीफ हो रही है।

 

जब नीरज चोपड़ा का भाला ले गए थे पाकिस्तान खिलाड़ी

नदीम कई बार बता चुकें है कि वो नीरज को अपनी प्रेरणा मानते हैं। हाल में ही नीरज ने ओलिंपिक का एक किस्सा सुनाया है। टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत करते हुए नीरज चोपड़ा ने कहा कि, मैं फाइनल की शुरुआत से पहले अपना जैवलिन तलाश कर रहा था। मुझे वह मिल नहीं रहा था। अचानक, मैंने देखा कि अरशद नदीम मेरे जैवलिन के साथ घूम रहा है। मैंने उससे कहा, भाई यह मेरा जैविलन है, यह मुझे दे दो। मुझे इससे थ्रो करना है।तब उसने मुझे वह वापस किया। तभी आपने देखा होगा कि मैंने अपना पहला थ्रो काफी जल्दबाजी में फेंका।

 

नीरजने आगे कहा कि, अर्शद नदीम ने क्वालीफाइंग दौर के साथ-साथ फाइनल में भी काफी अच्छा प्रदर्शन किया। मुझे लगता है कि यह पाकिस्तान के लिए अच्छा है, उनके पास भाले में अधिक रुचि दिखाने और भविष्य में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अच्छा प्रदर्शन करने का मौका है। बता दें कि युवा भारतीय एथलीट टोक्यो ओलंपिक से लौटने के बाद से लगातार कार्यक्रमों और कार्यक्रमों में भाग ले रहा है। इस दौरान नीरज चोपड़ा भी बीमार पड़ गए थे।

 

 

Related Videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept