Chardham Yatra 2021: चारधाम यात्रा पर लगी रोक हटी, शर्तों का पालन कर श्रद्धालु कर सकेंगे दर्शन

Publish Date: 16 Sep, 2021 |
 

Chardham Yatra 2021:

नैनीताल उच्च न्यायालय ने गुरुवार को चारधाम यात्रा पर से प्रतिबंध हटा दिया है। अदालत ने भक्तों द्वारा पालन किए जाने वाले कुछ अनिवार्य COVID-19 प्रोटोकॉल भी जारी कर दिए हैं। उत्तराखंड सरकार द्वारा चारधाम यात्रा पर हाईकोर्ट के रोक को चुनौती देते हुए सुप्रीम कोर्ट का रुख करने के बाद ये चीज सामने आई है। उच्च न्यायालय ने कोरोना वायरस की तीसरी लहर से निपटने के लिए राज्य सरकार की तैयारियों पर असंतोष जताया था।  इसी वजह से 28 जून को, चमोली, रुद्रप्रयाग और उत्तरकाशी के निवासियों के लिए यात्रा को खोलने के लिए राज्य मंत्रिमंडल के फैसले पर 1 जुलाई से जिले रोक लगा दी थी। 


कैबिनेट ने उन जिलों के लोगों के लिए यात्रा को खोलने का फैसला किया था, जहां एक negative RT-PCR or rapid antigen test report लाने के साथ-साथ कोरोना का प्रोटोकॉल के सख्त पालन की शर्त पर इस फेमस  मंदिर को खोल दिया गया है। 


Chardham Yatra Guidelines 

COVID-19 negative test report अनिवार्य है

टीकाकरण के दोनों ही डोज लिए प्रमाण पत्र

केदारनाथ धाम में एक दिन में सिर्फ 800 श्रद्धालुओं को जाने की अनुमति होगी

बद्रीनाथ धाम में केवल 1200 श्रद्धालुओं को जाने की अनुमति होगी वहीं, गंगोत्री में 600 श्रद्धालु

यमुनोत्री धाम में 400 श्रद्धालु को जाने की अनुमति 


नए आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, उत्तराखंड में फिलहाल तो 296 सक्रिय COVID मामले हैं, जबकि 7389 लोगों ने 2020 में महामारी की शुरुआत के बाद से इस वायरस की वजह से दम तोड़ दिया है।

 

Related videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept