Eco-Friendly Ganesh Chaturthi 2021: इन अनोखे उपायों से मनाएं Eco-Friendly गणेश चतुर्थी

Publish Date: 16 Sep, 2021
google Eco-Friendly Ganesh Chaturthi 2021: इन अनोखे उपायों से मनाएं Eco-Friendly गणेश चतुर्थी

Eco-Friendly Ganesh Chaturthi 2021: 

गणेश महोत्सव भारत के कई राज्यों में बहुत धूमधाम और भव्यता के साथ मनाया जाता है, लेकिन महाराष्ट्र में इसे 10 दिवसीय उत्सव के तौर पर मनाया जाता है। हर साल, लाखों भक्त गणेश की मूर्तियों को घर लाते हैं। पूजा के पूरा हो जाने के बाद, इन मूर्तियों को बाद में त्योहार के आखिर में पानी में विसर्जित कर दिया जाता है। 

 

GaneshChaturthi2021

वैसे हमें अपनी परंपराओं का जश्न मनाते और उनका पालन करते हुए पर्यावरण को प्रभावित न करने पर भी ध्यान देना चाहिए। इस लेख में हम आपको बताएंगे कि आप पर्यावरण के अनुकूल गणेश चतुर्थी कैसे मना सकते हैं और पर्यावरण की मदद करने में अपनी भूमिका आप कैसे निभा सकते हैं।


Eco-Friendly Ganesha

आमतौर पर बाजार में मिलने वाली गणेश जी की प्रतिमा या तो प्लास्टर ऑफ पेरिस या किसी अन्य सामग्री से बनी होती है जो बायोडिग्रेडेबल नहीं होती है। जल में विसर्जित होने पर, ये जल प्रदूषित करने का कारण बन सकते हैं और पानी के जीव को नुकसान पहुंचा सकते हैं। आप ईको फ्रेंडली सामान से बनी मूर्तियां बनवा सकते हैं और घर में ही बाल्टी या टब में गणेश जी की प्रतिमा को विसर्जित कर सकते हैं।


Artificial Immersion Tanks

भले ही मूर्तियाँ non-degradable सामग्री से बनी हों, आप पर्यावरण की मदद कर सकते हैं। आप अपने पर्यावरण के अनुकूल गणेश जी की मूर्ति के लिए एक बाल्टी पानी में घर पर विसर्जन भी रख सकते हैं। एक और विकल्प भी है आप विसर्जन के लिए Artificial विसर्जन टैंक का इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे आपके इलाके में पौधों और पेड़ों के लिए पानी का फिर से उपयोग किया जा सकता है। प्रथा धीरे-धीरे कुछ शहरों में लोकप्रिय होती जा रही है। आप भी इसके ट्राई कर सकते हैं। 


 Save electricity

आप लाइट के उपयोग को सीमित करके पर्यावरण के संरक्षण में अपना योगदान दे सकते हैं। आप लैम्प, डेकोरेटिव लाइट्स और लाउडस्पीकरों को दिन भर चालू रखने के बजाय, जब जरूरत हो, उपयोग कर सकते हैं। आप उस तरह की रोशनी का उपयोग कर सकते हैं जो कम ऊर्जा की खपत करती हो। 


Eco-Friendly Decoration

प्लास्टिक से बनी किसी भी चीज के इस्तेमाल से बचें। आप गणेश उत्सव के पंडालों को सजाने के लिए ताजे फूलों, पत्तियों और दीयों का इस्तेमाल कर सकते हैं। आप रंगोली भी बना सकते हैं। स्टोर से खरीदे गए प्लास्टिक के बंधनवर्स की सिलाई की जगह, आप फूल, मिट्टी, धागे, कपड़े आदि से बने बंधनवर्स खरीद सकते हैं। वैसे आप घर पर भी ऐसा कुछ बना सकते हैं। 

Related Videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept