ईशान किशन के दोहरे शतक के बाद 3 भारतीय खिलाड़ियों के करियर पर लटकी तलवार

Publish Date: 12 Dec, 2022
ईशान किशन के दोहरे शतक के बाद 3 भारतीय खिलाड़ियों के करियर पर लटकी तलवार

Ishan Kishan’s Double Century: शनिवार को भारत और बांग्लादेश के बीच खेले गए तीन वनडे मैच सीरीज के आखिरी मुकाबले में ईशान किशन ने 131 गेंदों में 210 रन की जबरदस्त पारी खेलते हुए विश्व क्रिकेट में अपनी एक अलग ही पहचान कायम की। उनकी इस पारी की बदौलत भारतीय टीम ने 227 रनों के अंतर से बहुत ही बड़ी जीत दर्ज की, तो बांग्लादेश से मिली दो हार का भी बदला लिया।

किशन ने दर्ज किये कई बड़े रिकार्डस 

वहीं, इस अदबुद्ध पारी के बाद जहां एकतरफ विश्व क्रिकेट के तमाम दिग्गज ईशान किशन की जमकर तारीफ कर रहे है, तो कुछ उन्हें टीम इंडिया का उभरता हुआ सितारा भी बता रहे है। किशन की यह पारी इसलिए भी मायने रखती है, क्योंकि 24 साल के किशन ने अपने 10वें ही मैच में दोहरा शतक लगाने का यह कारनामा करके अपने नाम कई बड़े रिकार्ड दर्ज किये है। 

3 खिलाड़ियों के करियर पर लटकी तलवार 

ईशान किशन के इस दोहरे शतक के बाद जहां अब उनकी जगह आगामी एकदिवसीय वर्ल्ड कप को लेकर पक्की मानी जा रही है, तो कुछ ऐसे भी भारतीय खिलाड़ी है। जिनकी टीम में जगह पक्की होने को लेकर अब संभावनाएं कम ही नजर आ रही है। 

शिखर धवन

इस लिस्ट में सबसे पहला नाम 37 वर्षीय भारतीय क्रिकेटर और बाएं हाथ के बल्लेबाज शिखर धवन का है। किशन की इस पारी के बाद धवन के एकदिवसीय करियर को लेकर संभावना जताई जाने लगी है कि धवन की जगह किशन को सिलेक्टर्स प्राथमिकता दे सकते है। धवन और किशन के बीच उम्र का यह अंतर भी उनकी जगह को थोड़ा खतरे में डालता है। 

ऋषभ पंत

दूसरे नंबर पर ऋषभ पंत का नाम है। पंत को कुछ महीने पहले टीम इंडिया का भावी कप्तान तक माना जा रहा था, लेकिन उनकी लगातार खराब बल्लेबाजी और खराब विकेटकीपरिंग की वजह से प्लेइंग 11 में किशन उनकी जगह ज्यादा फिट बैठते हुए नजर आ रहे है। दूसरी ओर, पंत का लगातार बढ़ता वजन और खराब फिटनेस भी उनकी टीम में जगह को कम करने का संकेत दे रहा है। 

केएल राहुल 

टीम के उपकप्तान केएल राहुल अपनी जिम्मेदारी निभाने में पूरी तरह से विफल रहे है। दो बड़े टूर्नामेंट के बाद बांग्लादेश के खिलाफ खेली गई वनडे सीरीज में भी राहुल कुछ खास कमाल नहीं दिखा सके। ऐसे में किशन राहुल की जगह लेते हुए दिख सकते है। जिसकी वजह यह भी है, दोनों ही खिलाड़ी टीम के लिए विकेटकीपर की भूमिका निभाते है, तो केएल राहुल का धीमे स्ट्राइक रेट से बल्लेबाजी करना उनकी टीम में जगह को लेकर और भी चिंता बढ़ाता है।

Related Videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept