Gorakhpur Zila Panchayat Adhyaksh Chunav 2021 : अधिसूचना जारी, ग्राम पंचायत सदस्य के 4487 पदों पर होना है उपचुनाव

Publish Date: 02 Jul, 2021
Gorakhpur Zila Panchayat Adhyaksh Chunav 2021 : अधिसूचना जारी, ग्राम पंचायत सदस्य के 4487 पदों पर होना है उपचुनाव

 Gorakhpur Gram Panchayat Chunav 2021

गोरखपुर में जिला निर्वाचन अधिकारी व डीएम के. विजयेंद्र पांडियनने 2 जून को पंचायत उपचुनाव के लिए अधिसूचना जारी कर दी है। प्रधान पद के 6 पदों, क्षेत्र पंचायत पद के 8 और क्षेत्र पंचायत पद के 4487 पदों पर उपचुनाव होगा। गुरुवार यानी 3 जून से सभी सभी ब्लॉकों पर नामांकन पत्रों की बिक्री शुरू होने जा रही है। 6 जून को नामांकन होगा। 7 जून को नामांकन पत्रों की जांच, 12 जून को मतदान कराया जाएगा, जबकि मतों की गणना 14 जून को होनी है।

 ग्राम पंचायत सदस्य के 4487 पदों पर होना है उपचुनाव

जिले में 2 मई को संपन्न हुए चुनाव के बाद भी 4487 पंचायत सदस्य के पद और क्षेत्र पंचायत सदस्य के 8 पद खाली रह गए थे। वहीं चुनाव जीतने के बाद भी सदस्य एवं क्षेत्र पंचायत सदस्यों के छह प्रत्याशियों की मृत्यु हो जाने से पद रिक्त हो गए थे। यहां अभी भी प्रशासकों ही विकास कार्य देख रहे हैं। ग्राम पंचायतों के हाथों में जल्द से जल्द अधिकार आ सके, इसके लिए शासन ने उपचुनाव का नोटिस पहले ही जारी कर दिया है।

इसलिए नहीं हो पाया था चुनाव

इन सभी पदों पर निर्वाचन की तिथि से पहले ही पिपरौली ब्लाक के दो क्षेत्र पंचायत वार्डों सभी उम्मीदवारों के पर्चे खारिज होने या फिर वापस होने के चलते यहां चुनाव नहीं हो सका था। वहीं निर्वाचन के बाद छह क्षेत्र पंचायत वार्ड रिक्त हो गए है। बताया गया है कि यहां निर्वाचित सदस्यों को निधन हो गया था। निर्वाचन से पहले ही ग्राम पंचायत सदस्य के 4460 पद खाली थे। जबकि निर्वाचन के बाद 27 पद और खाली हो गए है। इस तरह ग्राम पंचायत के 4487 पदों पर उपचुनाव होना है।

  • उपचुनाव का पूरा कार्यक्रम कुछ इस प्रकार है
  • जिले स्तर पर नोटिफिकेशन- 2 जून
  • पर्चों की बिक्री शुरू- 3 जून से होगी शुरू
  • नामांकन- 6 जून, सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे तक
  • नामांकन पत्रों की जांच- 6 जून, शाम 5 बजे के बाद
  • उम्मीदवारी वापस लेने के लिए - 7 जून, सुबह 8 से दोपहर 3
  • प्रतीक आवंटन- 7 जून, दोपहर 3 बजे के बाद
  • मतदान- 12 जून, सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक चलेगा
  • मतगणना- 14 जून सुबह आठ बजे से शुरू होगी

 

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव हुए थे। उसकी मतगणना के लगभग 1 महीने बाद ही यहां उपचुनाव होने जा रहे हैं। इसकी आधिकारिक घोषणा भी कर दी गई है। राज्य में हजारों की तादाद में ग्राम पंचायत सदस्यों के पद खाली रह गए हैं, जिसके कारण लगभग 20 हजार प्रधान शपथ नहीं ले पाए। इन सब के दौरान अब ग्राम पंचायत सदस्यों का 2 तिहाई बहुमत होना बेहद जरूरी है। इसके अलावा कोरोना महामारी, हत्या के साथ-साथ और भी कई कारणों से कई ग्राम प्रधानों की मृत्यु भी हुई। इसी वजह से बड़ी संख्या में ग्राम प्रधान, जिला पंचायत सदस्य, बीडीसी और ग्राम पंचायत सदस्य पदों के लिए भी उपचुनाव की प्रक्रिया की जाएगी। 

 

Related Videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept