75th Independence Day Celebrations : पीएम मोदी ने लाल किले पर फहराया तिरंगा, कहा- बंटवारे का दर्द आज भी सीने को छलनी करता है

Publish Date: 15 Aug, 2021 |
 

 

LIVE 75th Independence Day Celebrations: पूरादेश आज 75वां स्वतंत्रता दिवस (75th Independence Day) मना रहा है। इस खास अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले की प्राचीर पर तिरंगा फहराया और अब देश को संबोधित कर रहे हैं। इस साल स्वतंत्रता दिवस को 'आजादी का अमृत महोत्सव' के तौर पर मनाया जा रहा है। पीएम मोदी ने गुजरात के अहमदाबाद में साबरमती आश्रम से 'आजादी का अमृत महोत्सव' शुरू किया था। देश के पहली बार टोक्यो ओलिंपिक स्वर्ण पदक जिताने खिलाड़ी नीरज चोपड़ा समेत अन्य 32 खिलाड़ियों को समारोह भाग लेने के लिए आमंत्रित किया गया है।

 

स्वतंत्रता दिवस पर राजधानी दिल्ली में सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए हैं। जगह-जगह पर वाहनों की जांच की जा रही है। बड़ी संख्या में सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है। चेकिंग के बाद ही किसी को जानें की इजाजत दी जा रही है। पीएम मोदी 75वें स्वतंत्रता दिवस पर राजघाट पर महात्मा को श्रद्धांजलि देने के बाद लाल किले की प्राचीर पर तिरंगा फहराया है।

 LIVE 75th Independence Day Celebrations 

पीएम मोदी ने देश के नाम संबोधन शुरू कर दिया है। पीएम मोदी ने कहा कि, हम आजादी का जश्न मनाते हैं, लेकिन बंटवारे का दर्द आज भी हिंदुस्तान के सीने को छलनी करता है। यह पिछली शताब्दी की सबसे बड़ी त्रासदी में से एक है। कल ही देश ने भावुक निर्णय लिया है। अब से 14 अगस्त को विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस के रूप में याद किया जाएगा।

 

बंटवारे का दर्द आज भी हिंदुस्तान के सीने को छलनी करता है – पीएम मोदी

पीएम मोदी ने अपने संबोधन कि शुरूआत में कहा कि, हम आजादी का जश्न मनाते हैं, लेकिन बंटवारे का दर्द आज भी हिंदुस्तान के सीने को छलनी करता है. यह पिछली शताब्दी की सबसे बड़ी त्रासदी में से एक है। कल ही देश ने भावुक निर्णय लिया है। अब से 14 अगस्त को विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस के रूप में याद किया जाएगा।

 

देश नेहरू जी और पटेल का ऋणी है- पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि, भारत के पहले प्रधानमंत्री नेहरू जी हों, देश को एकजुट राष्ट्र में बदलने वाले सरदार पटेल हों या भारत को भविष्य का रास्ता दिखाने वाले बाबासाहेब अम्बेडकर, देश ऐसे हर व्यक्तित्व को याद कर रहा है, देश इन सबका ऋणी है।” 

 

कोरोना महामारी पर क्या बोले पीएम मोदी ?

पीएम मोदी ने कहा कि,  प्रगति पथ पर बढ़ रहे हमारे देश के सामने, पूरी मानवजाति के सामने कोरोना का यह कालखंड बड़ी चुनौती के रूप में आया है। भारतवासियों ने संयम और धैर्य के साथ इस लड़ाई को लड़ा है। कोरोना वैश्विक महामारी में हमारे डॉक्टर, हमारे नर्सेस, हमारे पैरामेडिकल स्टाफ, सफाईकर्मी, वैक्सीन बनाने मे जुटे वैज्ञानिक हों, सेवा में जुटे नागरिक हों, वे सब भी वंदन के अधिकारी हैं।

नए भारत के सृजन का अमृतकाल है- पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि, हर देश की विकासयात्रा में एक समय ऐसा आता है, जब वो देश खुद को नए सिरे से परिभाषित करता है, खुद को नए संकल्पों के साथ आगे बढ़ाता है। भारत की विकास यात्रा में भी आज वो समय आ गया है। यहां से शुरू होकर अगले 25 वर्ष की यात्रा नए भारत के सृजन का अमृतकाल है।

पहले की तुलना में तेजी से बढ़ रहा है भारत –पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि, आज सरकारी योजनाओं की गति बढ़ी है और निर्धारित लक्ष्यों को प्राप्त कर रही है। पहले की तुलना में हम तेजी से आगे बढ़े लेकिन सिर्फ यहां बात पूरी नहीं होती। अब हमें पूर्णता तक जाना है। हमारे वैज्ञानिकों और उद्यमियों की ताक़त का ही परिणाम है कि आज भारत को किसी और देश पर निर्भर नहीं होना पड़ा। आज हम गौरव से कह सकते हैं कि दुनिया का सबसे बड़ा वैक्सीनेशन कार्यक्रम भारत में चल रहा है।

 

चावल फोर्टिफाई पर पीएम मोदी ने क्या कहा?

पीएम मोदी ने कहा कि, सरकार अपनी अलग-अलग योजनाओं के तहत जो चावल गरीबों को देती है, उसे फोर्टिफाई करेगी, गरीबों को पोषणयुक्त चावल देगी। राशन की दुकान पर मिलने वाला चावल हो, मिड डे मील में मिलने वाला चावल हो, वर्ष 2024 तक हर योजना के माध्यम से मिलने वाला चावल फोर्टिफाई कर दिया जाएगा। 21वीं सदी में भारत को नई ऊंचाई पर पहुंचाने के लिए भारत के सामर्थ्य का सही इस्तेमाल, पूरा इस्तेमाल जरूरी है।

 

जम्मू-कश्मीरके विकास पर पीएम मोदी क्या बोले?

पीएम मोदी ने कहा कि, सभी के सामर्थ्य को उचित अवसर देना, यही लोकतंत्र की असली भावना है। जम्मू हो या कश्मीर, विकास का संतुलन अब ज़मीन पर दिख रहा है। जम्मू कश्मीर में डी-लिमिटेशन कमीशन का गठन हो चुका है और भविष्य में विधानसभा चुनावों के लिए भी तैयारी चल रही है। लद्दाख भी विकास की अपनी असीम संभावनाओं की तरफ आगे बढ़ चला है। एक तरफ लद्दाख, आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर का निर्माण होते देख रहा है तो वहीं दूसरी तरफ ‘सिंधु सेंट्रल यूनिवर्सिटी’ लद्दाख को उच्च शिक्षा का केंद्र भी बनाने जा रही है।

 

नई National Hydrogen Mission की घोषणा

पीएम मोदी ने कहा कि, भारत आज जो भी कार्य कर रहा है, उसमें सबसे बड़ा लक्ष्य है, जो भारत को क्वांटम जंप देने वाला है- वो है ग्रीन हाइड्रोजन का क्षेत्र। मैं आज तिरंगे की साक्षी में National Hydrogen Mission की घोषणा कर रहा हूं। भारत की प्रगति के लिए, आत्मनिर्भर भारत बनाने के लिए भारत का Energy Independent होना अनिवार्य है। इसलिए आज भारत को ये संकल्प लेना होगा कि हम आजादी के 100 साल होने से पहले भारत को Energy Independent बनाएंगे।

 

Related videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept