Arshdeep Singh के रूप में मिला T20 में Bumrah का विकल्प, ये शानदार आंकड़े देते है गवाही

Publish Date: 04 Nov, 2022
Arshdeep Singh के रूप में मिला T20 में Bumrah का विकल्प,  ये शानदार आंकड़े देते है गवाही

Arshdeep Singh: पिछले कुछ समय से भारतीय टीम को कई प्रमुख खिलाड़ियों की चोट की समस्या से जूझना पड़ा है। जहां सबसे पहले टीम के सबसे बेहतरीन ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा चोटिल हो गए थे, तो इसके बाद यॉर्कर किंग और स्टार गेंदबाज जसप्रीत बुमराह चोटिल हो गए।

इन दो खिलाड़ियों के बाद दीपक चाहर के चोटिल हो जाने से टीम इंडिया की गेंदबाजी पर काफी संकट देखने को मिला। खासकर इसका असर तेज गेंदबाजी पर सबसे ज्यादा देखने को मिला। एशिया कप 2022 के टूर्नामेंट में भारतीय टीम के हार का प्रमुख कारण भी खराब गेंदबाजी ही रहा। 

अर्शदीप जैसा मिला स्टार गेंदबाज 

हालांकि, खिलाड़ियों के चोटिल हो जाने के बीच टीम इंडिया में एक ऐसे स्टार गेंदबाज की एंट्री हुई है, जिसने टीम को काफी हद तक संभाल दिया है। यह नाम 23 वर्षीय भारतीय क्रिकेट टीम के युवा स्टार गेंदबाज Arshdeep Singh का है। जो T20 वर्ल्ड कप के इस टूर्नामेंट में अबतक खेले गए मुकाबलों में अपनी गेंदबाजी से काफी प्रभावी रहे है। इस बात के गवाह खुद उनके ये आंकड़े है।  इन आंकड़ों के अनुसार, अर्शदीप 4 मैचों में अबतक 9 विकेट ले चुके है। यही नहीं,  वे भारत की तरफ से अबतक सबसे सफल गेंदबाज भी रहे है। 

फैंस का जीता दिल 

अर्शदीप ने पिछले कुछ महीनों में अपने बेहतरीन गेंदबाजी के प्रदर्शन से न सिर्फ टीम मैनेजमेंट बल्कि फैंस का भी दिल जीत कर रख दिया है। जसप्रीत बुमराह के चोटिल हो जाने के कारण उनकी गैरमौजूदगी में अर्शदीप सिंह ने  अपनी जिम्मेदारी भी बखूबी तरह से निभाई है। जिसके पीछे की एक वजह यह भी है कि साल 2022 में अबतक खेले गए T20 इंटरनेशनल मुकाबलों में अर्शदीप सातवें सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं। वे 16 मैचों में कुल 26 विकेट ले चुके हैं। 

भुवनेश्वर का साथ निभाते अर्शदीप 

साल 2022 में अबतक खेले गए T20 इंटरनेशनल में भुवनेश्वर कुमार कुल 34 विकेट ले चुके है, तो अर्शदीप 26 विकेट के साथ भारत की तरफ से दूसरे सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज है। हालांकि, भुवनेश्वर ने अर्शदीप से 10 इनिंग्स भी ज्यादा खेली है। इसके अलावा एशिया कप 2022 के टूर्नामेंट में भी अर्शदीप ने 5 मैचों खेलते हुए कुल 5 विकेट लिए थे और भारत की तरफ से दूसरे सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज भी रहे थे। 

डेथ ओवर की टेंशन की दूर 

बुमराह के चोटिल हो जाने के बाद टीम मैनेजमेंट को डेथ ओवर को लेकर ज्यादा टेंशन थी, लेकिन अर्शदीप ने अपनी बेहतर गेंदबाजी से टीम की इस टेंशन को भी काफी हद तक दूर किया है। यही वजह है किअर्शदीप के इस प्रदर्शन की बदौलत इतने कम समय में उन्होंने भारतीय टीम के प्रमुख खिलाड़ियों में अपनी जगह कायम की है। 

Related Videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept