Jodhpur Violence: जोधपुर सांप्रदायिक हिंसा में अब तक 97 लोग किये गये गिरफ्तार, तो कई इलाकों में कर्फ्यू जारी- देखें वीडियो

Publish Date: 04 May, 2022 |
 

Jodhpur Violence: राजस्थान के जोधपुर शहर में Eid पर हुए उपद्रव के बाद तनाव जारी है। मामले में अब तक 97 लोग गिरफ्तार किए जा चुके हैं। Internet Service आगामी आदेश तक बंद कर दी गई है। बता दे कि ईद से पहले वाली रात को जोधपुर के जालौरी में एक जगह पर झंड़ा फहराने के मामले में दो गुटों के हिंसक झड़प हुई थी। यही नहीं, इस हिंसा में एक दुसरे पर पत्थर, डंडे-लाठी भी बरसाए गए। जिसमे पुलिस के कई जवान भी जख्मी हुए।

 

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दिए जांच के आदेश 

दूसरी तरफ, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत इस मामले पर पहले ही लोगों से शांति और सद्भाव बनाए रखने की अपील कर चुके है। उन्होंने वरिष्ठ अधिकारियों को ऐसी घटनाओं के लिए जिम्मेदार असामाजिक तत्वों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का निर्देश भी दिया है।

 

बोर्ड की परीक्षाएं निश्चित समय पर कराई जाएगी- हिमांशु गुप्ता

इस मामले में जिला कलेक्टर हिमांशु गुप्ता, प्रदेश के एडीजी लॉ एंड आर्डर हवा सिंह घुमरिया और जोधपुर पुलिस कमिश्नर नवज्योति गोगई ने एक प्रेस वार्ता भी की। जिसमें जिला कलेक्टर हिमांशु गुप्ता ने बताया "फिलहाल कर्फ्यू ग्रस्त इलाके में शांति है। कहीं पर भी सांप्रदायिक घटना कर्फ्यू लगाने के बाद नहीं हुई है। इसके अलावा कर्फ्यूग्रस्त इलाकों में लोगों को परेशानी न हो, इसलिए आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध कराने के भी निर्देश दिए गए हैं"। उन्होंने बोर्ड परीक्षाओं पर भी बयान देते हुए कहा, "बोर्ड की परीक्षाएं निश्चित समय पर की जाएगी। छात्रों के प्रवेश पत्र के आधार पर अपनी परीक्षा देने आ जा सकेंगे"। 

 

 

भीड़ के अनुरूप पुलिस बल तैनात नहीं था- कमिश्नर गोगोई

जबकि एडीजी घुमारिया ने इस घटना को लेकर कहा, "पुलिस की तरफ से यदि कोई  खामी रही है तो इसकी भी जांच की जाएगी"। वहीं, कमिश्नर गोगोई ने माना कि भीड़ के अनुरूप पुलिस बल तैनात नहीं था। उन्होंने भरोसा दिलाया कि जिसने भी माहौल बिगाड़ने की कोशिश की है, उसे बख्शा नहीं जाएगा।

 

 

Related videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept