Mumbai Cruise Drugs Case : Nawab Malik का बड़ा दावा, Aryan Khan को अगवा करने की साजिश का हिस्सा थे Sameer Wankhede

Publish Date: 07 Nov, 2021 |
 

Mumbai Cruise Drugs Case : एनसीपी नेता और महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिकऔर मुंबई NCB के ज़ोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े के बीच जंग थमने का नाम नहीं ले रही है। रविवार को प्रेस कॉंफ्रेस में नवाब मलिक ने कई बड़े खुलासे करते हुए कहा कि आर्यन खान का पूरा केस किडनैपिंग और उगाही का मामला है। उन्होंने कहा कि समीर वानखेड़े ने अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को अगवा करने की साजिश का हिस्सा थे। मीडिया से बात करते हुए नवाब मलिक ने दावा किया कि बीजेपी नेता मोहित कांबोज इस साजिश के मास्टरमाइंड थे। उन्होंने ये भी दावा किया कि वानखेड़े ने ओशिवारा में एक कब्रिस्तान में मोहित कांबोज  के साथ मुलाकात की थी।

Nawab Malik ने Sameer Wankhede पर साधा निशाना

नवाब मलिक ने अपने बयान में कहा, मोहित कंबोज के साले के जरिए ट्रैप लगाई गई और वहां आर्यन खान को पहुंचाया गया। किडनैप कर 25 करोड़ की फिरौती मांगने का खेल हुआ। डील 18 करोड़ में हुई, 50 लाख रुपए उठाए गए पर एक सैल्फी ने खेल बिगाड़ दिया। किडनैपिंग का मास्टरमाइंड मोहित कंबोज है जो वानखेड़े का साथी है। कोर्ट की कार्यवाही में बार-बार ये बात सामने आई कि आर्यन खान खुद कोई टिकट लेकर उस क्रूज पर नहीं गए थे। प्रतीक गाबा और आमिर फर्नीचर वाले के जरिए वो वहां गए। मैं सीधे बताना चाहता हूं कि ये पूरा मामला किडनैपिंग और फिरौती का है।

उन्होंने आगे कहा, समीर वानखेड़े का इस शहर में सिर्फ एक ही मकसद है कि ड्रग्स का धंधा धड़ल्ले से चलता रहे। ड्रग माफियाओं को संरक्षण देकर उनसे उगाही की जाए। फिल्म जगत के लोग जो ड्रग्स लेते हैं उनकी जानकारी लेकर और डराकर हजारों रुपए की उगाही की जाए। ये खेल वे इस शहर में खेल रहे हैं।बता दें कि मलिक पिछले तीन हफ्तों से वानखेड़े और एनसीबी पर उनकी सतर्कता, जांच में विसंगतियों और अधिकारी के धर्म से जुड़ी जानकारी को लेकर गंभीर आरोप लगा रहे हैं। 2 नवंबर को उन्होंने वानखेड़े पर एक निजी सेना बनाकर और महंगे कपड़ों का इस्तेमाल कर करोड़ों की जबरन वसूली करने का आरोप भी लगाया था।

 

 

Related videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept