Srinagar के हरिपर्वत मन्दिर में 32 साल बाद हुई नवरेह पूजा, RSS प्रमुख मोहन भागवत ने कश्मीरी पंडितों को किया संबोधित - watch video

Publish Date: 04 Apr, 2022 |
 

Navreh Pooja in Jammu kashmir: आमतौर पर "पर्वत" के रूप में प्रसिद्ध यह मंदिर श्रीनगर के डाउनटाउन इलाके में 'हारी पर्वत' के तले स्थित पंडित समुदाय का सबसे पवित्र धार्मिक स्थान माना जाता है। किसी जमाने में इस मंदिर के आस-पास रहने वाले हजारों पंडितों की शुरुआत इस मंदिर में हर सुबह प्रार्थना के साथ होती थी। लेकिन पलायन के बाद हालात बदल गए थे। जिसके बाद अब 32 साल बाद कश्मीरी पंडितों के द्वारा नवरेह यानी नवरात्रि के मौके पर माता शारिका देवी मन्दिर में  पहली बार विशेष पूजा की गयी। 

 

RSS प्रमुख मोहन भागवत ने कश्मीरी पंडितों को किया संबोधित 

इसमें कश्मीरी पंडितों ने बढ़ चढकर हिस्सा लिया। जिनमे से कुछ पंडित तो ऐसे थे जो पलायन के बाद पहली बार आये थे। वहीं इस मौके पर आरएसएस सरसंघ चालक मोहन भागवत ने कश्मीरी पंडितों को संबोधित करते हुए कहा कि नवरेह पर घाटी में जिस तरह से कश्मीरी पंडितों का जिस तरह धैर्य बढ़ा, उससे हर कश्मीरी पंडित खुश है। उन्होंने कश्मीरी पंडितों के जल्द घाटी में लौटने की बात कही है। भागवत ने उम्मीद जताई कि आतंकवाद की शुरुआत के बाद 1990 के दशक में अपने घरों से विस्थापित हुए कश्मीरी पंडित जल्द ही घाटी में वापस लौट आएंगे।

 

कश्मीरी पंडितों ने जताई ख़ुशी और केंद्र से की मांग 

वहीं कश्मीरी पंडितों ने भी 32 साल बाद पूजा करने के बाद बहुत ख़ुशी जताई। इसके साथ ही उन्होंने केंद्र सरकार से वापिसी की उम्मीद जताते हुए यह मांग की है कि जल्द से जल्द उनकी घर वापिसी के लिए सरकार काम करे।

 

Related videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept