Paralympics 2020 : विनोद कुमार ने डिस्कस थ्रो में जीता ब्रॉन्ज मेडल, जानें उनके बारे में

Publish Date: 29 Aug, 2021
Google Paralympics 2020 : विनोद कुमार ने डिस्कस थ्रो में जीता ब्रॉन्ज मेडल, जानें उनके बारे में

 

Paralympics 2020 : टोक्यो पैरालंपिक मेंभारत का आज दिन शानदार रहा है। भारत ने रविवार को तीन अपने नाम किए हैं। विनोद कुमार ने डिस्कस थ्रो में ब्रॉन्ज जीता है। उन्होंने 19.91 मीटर का थ्रो फेंककर एशियाई रिकॉर्ड तोड़ते हुए मेडल अपने नाम किया है। विनोद सिल्वर के बेहद करीब थे लेकिन आखिरी क्षणों में वह चूक गए और कांस्य पदक से ही संतोष करना पड़ा। इसी के साथ भारत ने आज तीन मेडल अपने नाम किए।

Vinod kumar Biography

विनोद कुमार सेना के जवानों के परिवार से आते हैं। उनके पिता 1971 के युद्ध का हिस्सा भी थे। विनोद ने अपनी शिक्षा पूरी करने के बाद बीएसएफ में शामिल होने का फैसला किया। हालांकि, 2002 में अपने प्रशिक्षण की अवधि के दौरान, वह लेह में एक चट्टान से गिर गए, जिससे उनके पैरों में गंभीर चोटें आईं था। इसी के चलते उन्हें कई वर्षों तक बिस्तर पर रहना पड़ा। इस दौरान उन्होंने अपने माता-पिता दोनों को खो दिया।

Vinod kumar Career

विनोद को पहली बार 2016 के रियो पैरालिंपिक के दौरान पैरा स्पोर्ट्स के बारे में पता चला था। सके तुरंत बाद उन्होंने रोहतक में SAI केंद्र का दौरा किया। स्थानीय कोचों के साथ बातचीत के बाद प्रशिक्षण का दौर शुरू किया और इस तरह उन्होंने Paralympics में खेलने के विचार बन लिया। 2019 में  विनोद ने पेरिस में हैंडिसपोर्ट ओपन पैरा एथलेटिक्स ग्रां प्री में अपने पहले अंतर्राष्ट्रीय आयोजन में भाग लिया। इसी इवेंट में विनोद को F52 कैटेगरी में वर्गीकृत किया गया था। उन्होंने प्रतियोगिता में चौथा स्थान हासिल किया था। विनोद की अन्य प्रमुख उपलब्धियों में छह की करियर की सर्वश्रेष्ठ विश्व रैंकिंग हासिल करना और 2021 में फ़ैज़ा पैरा एथलेटिक्स ग्रां प्री में कांस्य पदक जीतना शामिल है।

 

 

 

Related Videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept