केंद्र सरकार ने कृषि कानूनों को लिया वापस, जानें पीएम मोदी की speech की बड़ी बातें

Publish Date: 19 Nov, 2021 |
 

राष्ट्र के नाम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संबोधन शुरू हो गया है। कोरोना काल के दौरान पीएम मोदी का यह 11वां संबोधन है। बता दें कि पीएम मोदी आज से दिन के यूपी दौरे के लिए रवाना होने वाले हैं। पीएमओ कार्यालय की ओर से ट्वीट कर बताया गया, आज गुरु नानक जी का प्रकाश पर्व है। आज पीएम मोदी सिंचाई परियोजनाओं का लोकार्पण करने यूपी के महोबा जाएंगे। फिर शाम को वे झांसी में राष्ट्र रक्षा समर्पण पर्व में सम्मिलित होंगे। जाने से पहले वो सुबह 9 बजे राष्ट्र के नाम संदेश देंगे।

पीएम मोदी के भाषण की बड़ी बातें

 कृषि कानूनों को लिया गया वापस

 राष्ट्र को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने बड़ा ऐलान किया है। पीएम ने कहा, “आज मैं आपको, पूरे देश को, ये बताने आया हूं कि हमने तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने का निर्णय लिया है।इस महीने के अंत में शुरू होने जा रहे संसद सत्र में, हम इन तीनों कृषि कानूनों को Repeal करने की संवैधानिक प्रक्रिया को पूरा कर देंगे।

नेक नीयत से ये कानून लाई थी सरकार : पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा, “हमारी सरकार, किसानों के कल्याण के लिए, खासकर छोटे किसानों के कल्याण के लिए, देश के कृषि जगत के हित में, देश के हित में, गांव गरीब के उज्जवल भविष्य के लिए, पूरी सत्य निष्ठा से, किसानों के प्रति समर्पण भाव से, नेक नीयत से ये कानून लेकर आई थी। लेकिन इतनी पवित्र बात, पूर्ण रूप से शुद्ध, किसानों के हित की बात, हम अपने प्रयासों के बावजूद कुछ किसानों को समझा नहीं पाए।कृषि अर्थशास्त्रियों ने, वैज्ञानिकों ने, प्रगतिशील किसानों ने भी उन्हें कृषि कानूनों के महत्व को समझाने का भरपूर प्रयास किया

किसानों की स्थिति को सुधारने के लिए लाए गए थे कानून : पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा, बरसों से ये मांग देश के किसान, देश के कृषि विशेषज्ञ, देश के किसान संगठन लगातार कर रहे थे।पहले भी कई सरकारों ने इस पर मंथन किया था।इस बार भी संसद में चर्चा हुई, मंथन हुआ और ये कानून लाए गए। किसानों की स्थिति को सुधारने के इसी महाअभियान में देश में तीन कृषि कानून लाए गए थे।मकसद ये था कि देश के किसानों को, खासकर छोटे किसानों को, और ताकत मिले, उन्हें अपनी उपज की सही कीमत और उपज बेचने के लिए ज्यादा से ज्यादा विकल्प मिले।” 

 

फसल बीमा योजना को बनाया प्रभावी 

पीएम मोदी ने तीनों कृषि कानून को वापस लेने के बाद फसल बीमा योजना को प्रभावी बताया। उन्होंन कहा,हमनें फसल बीमा योजना को अधिक प्रभावी बनाया, उसके दायरे में ज्यादाा किसानों को लाए। किसानों को ज्यादा मुआवजा मिल सके, इसके लिए पुराने नियम बदले। इस कारण बीते चार सालों में एक लाख करोड़ से ज्यादा का मुआवजा किसान भाईयों के मिला है। किसानों को उनकी उपज के बदले सही कदम मिले इसके लिए कदम उठाए गए। हमने एमएसपी बढ़ाई साथ ही साथ रिकॉर्ड सरकारी केंद्र भी बनाए। हमारी सरकार के द्वारा की गई खरीद ने कई रिकॉर्ड तोड़ दिए। हमने किसानों को कहीं पर भी अपनी उपज बेचने का प्लेटफॉर्म दिया।” 

 

 

पीएम ने प्रकाशपर्व की दी शुभकामनाएं

पीएम मोदी ने कहा, आज गुरु नानक देव जी का पवित्र प्रकाश पर्व है. मैं विश्वभर में सभी लोगों को और सभी देशवासियों को हार्दिक बधाई देता हूं।

 

पीएम मोदी का 11वां संबोधन 

— PMO India (@PMOIndia) November 19, 2021

पिछली बार जब प्रधानमंत्री ने राष्ट्र को संबोधित किया था, तब देश में एक बिलियन COVID-19 टीकाकरण हो गया था। चीन के बाद भारत दूसरा देश बन गया था। इस हफ्ते की शुरुआत में, करतारपुर साहिब कॉरिडोर – पाकिस्तान में दरबार साहिब करतारपुर जाने वाली सड़क – को गुरु नानक की जयंती से कुछ दिन पहले फिर से खोल दिया गया था।मार्च 2020 में करतारपुर कॉरिडोर पर आवाजाही को निलंबित कर दिया गया था, जब पाकिस्तान ने कोविड के प्रकोप के बाद भारत से यात्रा पर प्रतिबंध लगा दिया था।

 

Related videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept