PM मोदी लाल किले से 400वें प्रकाश पर्व पर करेंगे संबोधित, 350 सालों बाद इतिहास रचने वाले पहले पीएम बनेंगे - जानें

Publish Date: 21 Apr, 2022 |
 

PM Modi on Red Fort:  गुरु तेग बहादुर की 400 वीं जयंती (400th Birth Anniversary of Guru Tegh Bahadur) के मौके पर आज गुरुवार की रात पीएम मोदी (PM Modi) एक नया इतिहास लिखने वाले हैं। दरअसल, नरेंद्र मोदी सूर्यास्त के बाद मुगल-युग के स्मारक लाल किले (Red Fort) पर भाषण देने वाले भारत के पहले प्रधानमंत्री होने वाले हैं। पीएम मोदी लाल किले से राष्ट्र को संबोधित करेंगे। हालांकि, प्रधानंमत्री लाल किले की प्राचीर से नहीं, बल्कि लॉन से राष्ट्र को संबोधित करेंगे।

 

लाल किले को आयोजन स्थल के रूप में चुनने की वजह आई सामने

वहीं, संस्कृति मंत्रालय के अधिकारियों के अनुसार, गुरु तेग बहादुर की 400 वीं जयंती के लिए लाल किले को आयोजन स्थल के रूप में इसलिए चुना गया है, क्योंकि यहीं से मुगल शासक औरंगजेब ने 1675 में सिखों के नौवें गुरु गुरु तेग बहादुर का शीश काटने का आदेश दिया था। इसके अलावा, अधिकारियों के बताया कि  प्रधानमंत्री मोदी गुरुवार को रात 9.30 बजे देश को संबोधित भी करेंगे। आपको बता दें कि स्वतंत्रता दिवस के अलावा, आज ऐसा दूसरा ऐसा मौका है, जब मोदी स्मारक से भाषण देंगे। इससे पहले साल 2018 में उन्होंने स्मारक पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया था और नेताजी सुभाष चंद्र बोस द्वारा आजाद हिंद सरकार के गठन की 75 वीं वर्षगांठ मनाई थी। 

 

स्मारक सिक्का और डाक टिकट भी जारी करेंगे पीएम मोदी 

मोदी के संबोधन के अलावा, इस कार्यक्रम में 400 सिख संगीतकारों द्वारा प्रदर्शन किया जाएगा और लंगर भी होगा। अधिकारियों ने आगे बताया कि मोदी इस अवसर पर एक स्मारक सिक्का और डाक टिकट भी जारी करेंगे। लाल किले के पास चांदनी चौक में गुरुद्वारा शीश गंज साहिब है। यह उस स्थान पर बनाया गया था जहां मुगलों द्वारा गुरु तेग बहादुर का सिर काट दिया गया था।

 

समारोह में शामिल होंगी कई प्रमुख हस्तियां

दूसरी ओर, सिख गुरु तेग बहादुर जी के 400 वें प्रकाश पर्व के आयोजन को लेकर केंद्र सरकार ने एक उच्च स्तरीय कमेटी भी गठित है। जिसमें केंद्रीय गृहमंत्री सहित सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों, दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंध कमेटी सहित प्रमुख लोगों को शामिल किया गया था। इस कार्यक्रम का आयोजन संस्कृति मंत्रालय व दिल्ली सिख गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी की ओर से किया गया है, ऐसे में कई राज्यों के मुख्यमंत्री और देश-विदेश की कई प्रमुख हस्तियां समारोह में शामिल होंगे।

 
 
 

Related videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept