Pro Kabaddi League Rules : बोनस पॉइंट से लेकर सुपर टैकल टर्म्स तक, जानें क्या हैं प्रो कबड्डी के नियम?

Publish Date: 24 Dec, 2021
Pro Kabaddi League Rules : बोनस पॉइंट से लेकर सुपर टैकल टर्म्स तक, जानें क्या हैं प्रो कबड्डी के नियम?

Pro Kabaddi League Rules : प्रो कबड्डी लीग के आठवें सीजनकी शुरुआत हो चुकी है। 2 साल बाद फिर एक बार प्रो कबड्डी लीग का आयोजन किया जा रहा है। टूर्नामेंट की शुरुआत 22 दिसंबर से हो चुका है। कोरोना के चलते पिछले साल लीग का आयोजन नहींहुआ था। इस बार बिना दर्शकों के खाली स्टेडियम मैंच किए जा रहे हैं। मैच देखते हुए आप भी प्रो कबड्डी के कुछ नियम, टर्म्स और नाम सुनते होंगे लेकिन फिर भी उस नियम के बारे में पूरी तरह वाकिफ नहीं है। आईए जानते हैं प्रो कबड्डी के सभी नियमों के बारे में...

प्रो कबड्डी के मैच कितने समय का होता है? (Pro Kabaddi Rules and Regulations)

प्रो कबड्डी में सभीमुकाबले 40 मिनट के होते हैं। पूरा मैच दो हाफ में बांटा जात है। 20 मिनट का पहला और इतने ही समय का दूसरा हाफ होता है। एक मैच में एक टीम अधिकतर 5 खिलाड़ियों को सब्स्टीट्यूट कर सकती है। एक हाफ के बाद दोनों टीम एक दूसरे कोट में चली जाती है।

क्रिकेट की तरह कबड्डी में भी अंपायर के फैसले को चुनौती देने का अधिकार मिलात है। दोनों टीमों के कप्तान के पास एक रिव्यू होता है। सही रिव्यू लेने पर अंपायर को अपना फैसला बदलना पड़ता है और टीम के पास रिव्यू बचा रहता है।

 

Scoring Method

दोनों टीम प्रत्येक प्रतिद्वंद्वी के आउट या आउट होने पर एक पॉइंट प्राप्त करेगा। वह पक्ष, जो एक ऑल आउट स्कोर करता है, दो अतिरिक्त पॉइंट अर्जित करेगा। आउट एंड रिवाइवल नियम लागू होगा। प्रत्येक पक्ष को दिए गए प्रत्येक बोनस पॉइंट के लिए एक पॉइंट प्राप्त होगा। अगर रेडर पकड़ा जाता है जब केवल तीन डिफेंडर या उससे कम होते हैं, तो बचाव दल को एक अतिरिक्त बोनस अंक मिलता है।

  

Time Outs

प्रत्येक टीम को प्रत्येक खेल में 90 सेकंड में से एक बार लेने की अनुमति होगी। रेफरी की अनुमति से कप्तान, कोच या टीम के किसी भी खेलने वाले सदस्य द्वारा इस तरह के टाइम आउट के लिए कहा जाएगा। टाइम आउट के दौरान, मैच की घड़ी को रोक दिया जाएगा।


सुपर रेड (What is Super Raid)

प्रो कबड्डी मैच देखते हुए आपने भी कई बार सुपर रेड सुना होगा। आईए जानते हैं सुपर रेड नियम के बारे में.. जब कोई रेडर एक रेड में 3 या फिर उससे ज्यादा अंक लेकर वापस आता है तो उसे सुपर रेड कहते हैं। एक रेडर बोनस अंक लेने के बाद दो खिलाड़ियों को आउट करता है तो उसे सुपर रेड माना जाता है। 

 

 

सुपर टैकल (What is Super Tackle)

डिफेंड करने वाली टीम के पास जब 3 या उससे कम खिलाड़ी ही कोर्ट में बचते हैं, और इस स्थिती में वह रेडर को आउट करता है तो इसे सुपर टैकल कहते हैं।

 

बोनस पॉइंट (Bonus Point in Kabaddi)

रेडर को बोनस लाइन पार करने पर एक पॉइंट दिया जाता है। अगर रेडर बोनस लाइन पार करने के बाद पकड़ा जाता है, तो विपक्ष टीम को भी एक पॉइंट से दिया जाएगा। बोनस लाइन तब लागू होगी जब कोर्ट पर कम से कम छह डिफेंडर हों, अंपायर ऐसी छापेमारी के पूरा होने के बाद बोनस पॉइंट प्रदान करेगा। यदि बोनस लाइन पार करते समय रेडर पकड़ा जाता है तो बचाव दल को एक पॉइंट दिया जाएगा और कोई बोनस पॉइंट नहीं दिया जाएगा। यदि रेडर बोनस लाइन को पार करने के बाद एक या एक से अधिक डिफेंडरों को बाहर कर देता है, तो उसे बोनस लाइन को पार करने के लिए बोनस पॉइंट के अलावा जितने अंक प्राप्त होंगे।

रेडर को डिफेंडरों को छूने से पहले या डिफेंडर द्वारा पकड़े जाने से पहले बोनस पॉइंट हासिल करने के लिए बोनस लाइन को पार करना होता है। यदि रेडर एक स्पर्श या संघर्ष के बाद बोनस लाइन को पार करता है तो उसे बोनस पॉइंट नहीं दिया जाएगा। बोनस पॉइंट के लिए खिलाड़ी का कोई पुनरुद्धार नहीं होगा। यदि किसी खिलाड़ी को अस्थायी रूप से निलंबित कर दिया जाता है या मैच से अयोग्य घोषित कर दिया जाता है, तो टीम कम संख्या में खिलाड़ियों के साथ खेलेगी। ऐसे खिलाड़ियों को बोनस अंक देने के लिए गिना जाएगा। 

 

 

Related Videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept