Shradh 2021: जानें कब है मोक्ष देने वाली इंदिरा एकादशी, कैसे करें श्राद्ध

Publish Date: 30 Sep, 2021 |
 

 

Shradh 2021: श्राद्ध पक्ष के हर दिनका अपना खास महत्व होता है। इसी में से एक है इंदिरा एकादशी। हिन्दी पंचांग के मुताबिक, मोक्ष देने वाली इंदिरा एकादशी हर साल आश्विन मास के कृष्ण पक्ष की एकादशी तिथि को पड़ती है। वहीं बात करे इस साल इंदिरा एकादशी 02 अक्टूबर 2021 को मनाई जाएगी। इस दिन भगवान विष्णु की विधि विधान से पूजा की जाती है। ऐसा कहा जाता है कि इंदिरा एकादशी व्रत से प्राप्त पुण्य को अपने पितरों को दान देना चाहिए, जिससे की उनको मोक्ष प्राप्ति हो सके। जिन पितरों को मोक्ष नहीं मिला होता है वे इंदिरा एकादशी व्रत के पुण्य मोक्ष प्राप्त करते हैं।

Indira Ekadashi 2021 Date & Time

  • Indira Ekadashi date: Saturday, October 2, 2021
  • Ekadashi Tithi Begins - 11:03 PM on Oct 01, 2021
  • Ekadashi Tithi Ends - 11:10 PM on Oct 02, 2021
  • Parana: 06:15 AM to 08:37 AM, October 03, 2021

इंदिरा एकादशी व्रत का महत्व

हिंदू पंचांग के अनुसार प्रत्येक 11वीं तिथि को एकादशी का व्रत किया जाता है। एक महीने में कुल दो एकादशी व्रत होते हैं, एक शुक्ल पक्ष के दौरान और दूसरा कृष्ण पक्ष के दौरान। एकादशी का व्रत भगवान विष्णु के भक्तों द्वारा उनका आशीर्वाद लेने के लिए किया जाता है।एकादशी में तीन दिनों का उपवास होता है। एकादशी से एक दिन पहले, भक्त दोपहर में एक बार भोजन करते हैं ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि अगले दिन पेट में कोई बचा हुआ भोजन नहीं है। एकादशी के दिन, भक्त सख्त उपवास रखते हैं और अगले दिन सूर्योदय के बाद ही उपवास तोड़ते हैं। एकादशी व्रत के दौरान सभी प्रकार के अनाज और अनाज खाना वर्जित है।

 

श्राद्ध पितृ पक्ष का मतलब क्या होता है?

आपको बता दें कि यह शब्द संस्कृत के दो शब्दों - "सत्" (सत्य) और "आधार" (आधार) को जोड़कर बनाया गया है। इसलिए, श्राद्ध का का मतलब होता है अत्यंत "श्रद्धा" या फिर भक्ति के साथ किए गए काम। 



 

Related videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept