Pakistan का घमंड बना हार का कारण, 30 साल बाद इतिहास दोहराने के अरमान पर फिरा पानी

Publish Date: 14 Nov, 2022
Pakistan का घमंड बना हार का कारण, 30 साल बाद इतिहास दोहराने के अरमान पर फिरा पानी
T20 World Cup 2022: आपने एक कहावत तो सुनी होगी कि हर किसी का समय एक दिन जरूर बदलता है.... ऐसा ही कुछ कल हुए मैच में देखने को मिला। दरअसल, T20 World Cup 2022 के फाइनल मैच में इंग्लैंड टीम ने पाकिस्तान को 5 विकेट से हराते हुए यह कप अपने नाम दर्ज किया। तो इसके साथ ही इंग्लैंड की टीम ने 30 साल बाद एक बड़ा बदला भी ले लिया है। 

दरअसल, साल 1992 में पाकिस्तान ने वनडे विश्व कप के फाइनल में इंग्लैंड को हराकर उसके चैंपियन बनने का सपना तोड़ दिया था। ऐसे में इंग्लैंड ने भी पलटवार करते हुए पाकिस्तान को जबरदस्त शिकस्त देते हुए दूसरी बार यह खिताब अपने नाम दर्ज किया। 

जीत को लेकर आत्मविश्वास थे पाकिस्तानी फैंस 

वहीं,  इस मैच से पहले पाकिस्तानी समर्थकों की तरफ से यह बात कही जा रही थी कि साल 1992 की तरह ही इस बार भी पाकिस्तान इंग्लैंड टीम को मात देते हुए उसका टूर्नामेंट जीतने का सपना तोड़ देगा। जिसकी एक वजह यह भी थी कि पाकिस्तान की टीम ने शुरुआती दो मैच में हारकर शानदार वापसी की, तो न्यूजीलैंड जैसी टीम को हराकर फाइनल में प्रवेश किया।

यही नहीं, सबसे चौंकाने वाली बात तो यह भी थी कि दोनों टीमों के बीच मुकाबला मेलबर्न के उसी मैदान पर हो रहा था, जहां 30 साल पहले पाकिस्तान ने इंग्लैंड को हराया था। ऐसे में उम्मीद लगाई जा रही थी कि पाकिस्तान इस इतिहास को फिर दोहराएगा, लेकिन स्टोक्स ने उनकी इस उम्मीद पर पानी फेर दिया। 

अति आत्मविश्वास बनी हार का कारण 

पाकिस्तान की जीत को लेकर पूरी तरह से विश्वास जताए जा रही बातों पर पानी फेरते हुए इंग्लैंड ने इस मैच में शानदार प्रदर्शन किया। टीम ने न केवल बेहतरीन बल्लेबाजी की, बल्कि टीम के गेंदबाजों ने इतनी जबरदस्त और किफायती गेंदबाजी की, कि पाकिस्तान के बल्लेबाज बाउंड्री लगाने के लिए भी तरसते हुए नजर आएं। आलम तो यह रहा कि पाकिस्तान के बल्लेबाज अपनी पारी के दौरान कुल 8 चौके और दो छक्के ही लगा पाए।  जबकि पाकिस्तान की तरफ से हुई धीमी बल्लेबाजी ने भी उन्हें बड़ा स्कोर करने से रोक दिया। 

Related Videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept