1983 Cricket World Cup की जीत को पूरे हुए 39 साल, तो Sachin से Sehwag तक ने लिखी बड़ी बात

Publish Date: 25 Jun, 2022
Dainik Jagran 1983 Cricket World Cup की जीत को पूरे हुए 39 साल, तो Sachin से Sehwag तक ने लिखी बड़ी बात

39 Years of Golden Victory: आज भारतीय क्रिकेट टीम के लिए सबसे खास दिन है, क्योंकि आज ही के दिन 39 साल पहले भारतीय क्रिकेट टीम ने वेस्टइंडीज जैसी खतरनाक टीम को मात देते हुए पहला वर्ल्ड कप जीता था।  यह वर्ल्ड कप भारतीय टीम ने कपिल देव की कप्तानी में जीता था।  वहीं, आज इस वर्ल्ड कप के 39 साल पूरे हो जाने पर सोशल मीडिया पर लोग कपिल देव और उनकी पूरी टीम को जमकर बधाइयां दे रहे हैं। 


Sehwag दमदार संदेश लिखकर दी शुभकामनाएं

वहीं, इसी बीच भारतीय टीम के सबसे विस्फोटक बल्लेबाज रहे वीरेंद्र सहवाग ने भी इस खास मौके पर उस वर्ल्ड कप की कुछ फोटोज भी शेयर करते हुए एक बेहद ही शानदार पोस्ट लिखा, “तारीख में क्या रखा है? खैर, 25 जून, तारीख में शुरुआत रखी है। यह एक ऐसा दिन है जिस दिन भारत ने अपनी यात्रा शुरू की थी- 1932 में अपना पहला टेस्ट मैच खेला और 51 साल बाद 25 जून 1983 को कपिल पाजी और उनके चैंपियन ने विश्व कप जीता, जो क्रिकेटरों की एक पीढ़ी के लिए एक शुरुआत थी। ऐतिहासिक तिथि.”

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Virender Sehwag (@virendersehwag)


सचिन ने लिखी यह बात 

सहवाग के अलावा क्रिकेट के भगवान Sachin Tendulkar ने भी अपने Instagram अकाउंट से फोटो शेयर करते हुए लिखा,''जिंदगी में कुछ पल आपको प्रेरित करते हैं और सपने देखने के लिए उम्मीद देते हैं। आज ही के दिन 1983 में हमने पहली बार वर्ल्ड कप जीता था। मैं तब से जान गया था, कि मैं भी क्या करना चाहता हूं!''

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Sachin Tendulkar (@sachintendulkar)

 

भारतीय को हुआ यह खास अहसास: VVS Laxman

इसके अलावा भारत के दिग्गज बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण ने ट्वीट करके लिखा, ''1983 में आज का ही दिन था जब हर  सपनों को हकीकत में बदला जा सकता है! एक ऐसा पल जो हमें हमेशा गौरवान्वित करेगा! मैं, कई अन्य लोगों की तरह इस जीत से प्रेरित हुआ और एक दिन दिन देश का प्रतिनिधित्व करने का सपना देखने लगा।''



महज 183 रनों का बचाव करते हुए दर्ज की थी जीत 

यह वर्ल्ड कप इसलिए भी खास है, क्योंकि उस समय वेस्टइंडीज विश्व क्रिकेट की सबसे खतरनाक टीम मानी जाती थी और इससे पहले वेस्टइंडीज की टीम 2 बार लगातार वर्ल्ड कप को अपने नाम कर चुकी थी। इसके साथ ही वेस्टइंडीज टीम में विव रिचर्ड्स जैसे खतरनाक बल्लेबाज की मौजूदगी के होने के बावजूद भारतीय क्रिकेट टीम ने 183 रन के छोटे लक्ष्य को बचाने के लिए जिस तरह का प्रदर्शन किया था, वह वाकई काबिले तारीफ था। 

Related Videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept