Ukraine-Russia War: विदेश मंत्री S Jaishankar का बयान, स्वतंत्र रुख को विश्व ने सराहा | India China

Publish Date: 04 Sep, 2022 |
 

India China Relation: चीन के साथ विवाद और रूस-यूक्रेन युद्ध को लेकर विदेश मंत्री एस जयशंकर का बयान सामने आया है, उन्होंने कहा कि यूक्रेन युद्ध पर भारत के स्वतंत्र रुख और चीन द्वारा सीमा के पास 'सैनिकों की तैनाती' के बाद भारत के दृढ़ रुख की पूरे विश्व ने सराहना की है।

लोगों के कल्याण के दृष्टिकोण को लेकर लिया फैसला 

एस जयशंकर ने रूस और यूक्रेन युद्ध की परिस्थितियों के बारे में बोलते हुए कहा, ऐसे समय में देशों पर कोई एक पक्ष चुनने का भारी दबाव रहता है। लेकिन हमने स्वतंत्र रुख अपनाया है, हमने हमारे लोगों के कल्याण के दृष्टिकोण से जिन फैसलों को सही समझा, वही फैसला लिया है, इस बात की पूरी दुनिया ने सराहना की है।

राष्ट्रीय हित की कीमत पर नहीं हो सकते अच्छे संबंध 

इसके साथ ही एस जयशंकर ने चीन के साथ हुए विवाद को लेकर कहा- "मुद्दा ये नहीं है कि हमारे बीच अच्छे संबंध होने चाहिए या नहीं। हम अच्छे संबंध चाहते हैं, लेकिन अच्छे संबंध हमारे राष्ट्रीय हित की कीमत पर नहीं हो सकते। ये एक अशांत सीमा की कीमत पर नहीं हो सकते हैं।"

विकास की ओर बढ़ता भारत 

जयशंकर ने आगे कहा कि भारत ने जिस तरह से कोविड-19 महामारी और टीकों का प्रबंधन किया, डिजिटल भारत का उभर कर सामने आना, नवीकरणीय ऊर्जा हब के रूप में उसका उभरना, भारतीय अर्थव्यवस्था का फिर से पटरी पर लौटना, जैसे उसने यूक्रेन में फंसे अपने छात्रों को सुरक्षित बाहर निकाला और स्वच्छ भारत ने देश की छवि सुधारने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है। 

 

Related videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept