US Warns Taliban : अमेरिकी ने तालिबान को चेताया, जरूरत पड़ी तो Drone से होगा फिर हमला

Publish Date: 01 Sep, 2021 |
 

 

US Warns Taliban :  पिछले कुछ दिनों से अफगानिस्तान में जो कुछ भी चल रहा है वो बिल्कुल भी अच्छा नहीं है। अफगानिस्तान पर तालिबान ने कब्जा कर लिया है। इसके बादलगातार अफगानिस्तान के हालात खराब होते जा रहे हैं। अफगानिस्तान में फिर एक बार तालिबान युग की वापसी हो गई है। अमेरिका ने अब अफगानिस्‍तान को धोड़ दिया है। मियाद 31 अगस्‍त तक की थी लेकिन अमेरिका ने एक दिन पहले ही यानी 30 अगस्‍त को काबुल को छोड़ दिया है।

अमेरिकान ने साफ किया है कि जरूरत पड़ी वह फिर से अफगानिस्‍तान में और ड्रोन हमले करेगा। अमेरिका का सबसे लंबा युद्ध सोमवार को समाप्त हो गया। 20 साल के सैन्य अभियानों के बाद आखिरी सैनिक अफगानिस्तान से चले गए। 82वें एयरबोर्न डिवीजन के कमांडर क्रिस डोनह्यू अफगानिस्तान की धरती से उतरने वाले अंतिम अमेरिकी सैनिक थे।  रक्षा विभाग ने ट्विटर पर सिपाही की तस्वीर शेयर करते लिखा कि, "अफगानिस्तान छोड़ने वाला आखिरी अमेरिकी सैनिक: मेजर जनरल क्रिस डोनह्यू, 30 अगस्त, 2021 को अमेरिकी वायु सेना सी-17 पर 82 वें एयरबोर्न डिवीजन बोर्ड के कमांडिंग जनरल, काबुल में अमेरिकी मिशन को समाप्त कर रहे हैं।"

भारत ने पहली बार तालिबान से बात की

मिली जानकारी के अनुसार, कतर में भारतीय राजदूत दीपक मित्तल ने मंगलवार को दोहा में तालिबान के राजनीतिक कार्यालय के प्रमुख शेर मोहम्मद अब्बास स्टेनकजई से मुलाकात की और अफगानिस्तान में फंसे भारतीय नागरिकों की सुरक्षा और जल्द वापसी पर चर्चा की। एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि तालिबान पक्ष के अनुरोध पर भारतीय दूतावासदोहा में बैठक हुई। बयान में कहा गया है कि, "अफगानिस्तान में फंसे भारतीय नागरिकों की सुरक्षासुरक्षा और जल्द वापसी पर चर्चा हुई। अफगान नागरिकोंविशेष रूप से अल्पसंख्यकोंजो भारत की यात्रा करना चाहते हैंकी यात्रा भी सामने आई।"

 

 

 

Related videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept