Viral News : ब्रिटिश मूल की सिख सेना अधिकारी प्रीत चंडी ने अकेले South Pole की यात्रा, 40 दिन में पूरा किया सफर

Publish Date: 05 Jan, 2022
Viral News :  ब्रिटिश मूल की सिख सेना अधिकारी प्रीत चंडी ने अकेले South Pole की यात्रा, 40 दिन में पूरा किया सफर

 

Viral News : ब्रिटिश मूल की सिख सेना अधिकारी प्रीत चंडी (Sikh army officer Preet Chandi) ने इतिहास रच दिया है। प्रीत अकेले ही दक्षिणी ध्रुव (South Pole) का सफर पूरने वाली पहली "गैर श्वेत महिला" बन गई हैं। सीएनएन की रिपार्ट के अनुसार, चंडी का साहसिक कार्य पिछले साल नवंबर में शुरू हुआ था, जब उन्होंने अकेले ही अंटार्कटिका के हरक्यूलिस इनलेट से असमर्थित अपनी शुरू की। प्रीत ने अगले कुछ हफ्ते अंटार्कटिका में अकेले स्कीइंग करते हुए समय बिताया। 3 जनवरी को उन्होंने बताया कि 40 दिनों में 700 मील (1126 किमी) का ट्रेक किया है।

सिख सेना अधिकारी प्रीत चंडी ने रचा इतिहास

प्रीत चंडी ने अपने ब्लॉगमें बताया, "अंटार्कटिका पृथ्वी पर सबसे ठंडा, सबसे ऊंचा, सबसे शुष्क और सबसे हवा वाला महाद्वीप है। वहां कोई भी स्थायी रूप से नहीं रहता है। जब मैंने पहली बार योजना बनाना शुरू किया था तो मुझे महाद्वीप के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं थी और इसी ने मुझे वहां जाने के लिए प्रेरित किया।" उन्होंने आगे बताया, "यह अभियान हमेशा मुझसे कहीं अधिक था। मैं लोगों को अपनी सीमाओं को आगे बढ़ाने और खुद पर विश्वास करने के लिए प्रोत्साहित करना चाहती हूं। मैं सिर्फ कांच की छत को तोड़ना नहीं चाहती, मैं इसे एक लाख टुकड़ों में तोड़ना चाहती हूं।"

बता दें कि प्रीत ने दक्षिणी ध्रुव तक 1120 किलोमीटर से अधिक की दूरी तय करने के बाद एकल अभियान पूरा किया। उसने अपनी पूरी यात्रा के दौरान अपने फैंस को ऑडियो ब्लॉग से अपडेट रखा।हरप्रीत की निजी वेबसाइट के अनुसार, उसका उपनाम पोलर प्रीत है और उसने दक्षिणी ध्रुव पर अकेले ही इस  अभियान को पूरा किया है। इसमें उसे 700 मील (लगभग 1120 किमी) की यात्रा करना शामिल था, सभी किट के साथ एक पुल्क (स्लेज) को खींचना, -50c तक के तापमान और 60mph तक की हवा की गति से जूझना पड़ा था। सोशल मीडिया पर उनके इस साहसी काम की जमकर तारीफ हो रही है।

 

Related Videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept