Indian Railway का बयान- 3840 Shramik Special Train से 52 लाख मजदूर पहुंचे घर

Publish Date: 30 May, 2020
 
1 मई से रेलवे ने देश भर में हर दिन श्रमिक स्पेशल ट्रेन का संचालन शुरू किया है ताकि प्रवासी मजदूर अपने घर वापस लौट सकें। कोरोना वायरस की वजह से देश भर में जारी लॉकडाउन के बीच प्रवासी मजदूर विभिन्न जगहों पर फंसे हुए हैं। भारतीय रेलवे ने 28 मई तक कुल 3840 श्रमिक स्‍पेशल ट्रेनें चलाई हैं। इन ट्रेनों के जरिये अब तक 52 लाख यात्रियों को उनके गंतव्‍य स्‍थान त‍क पहुंचाया गया है। अधिकांश प्रवासी उत्तर प्रदेश से हैं जो कि कुल संख्या का लगभग 42% है वहीं बिहार से कुल संख्या का 37% है। श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के लिए विशिष्ट प्रोटोकॉल बनाए गए हैं। राज्य सरकार शुरुआती स्टेशनों पर भोजन और पानी उपलब्ध करा रहे हैं साथ ही IRCTC और रेलवे डिवीजनों ने ट्रेनों में श्रमिकों के लिए मुफ्त भोजन और पानी की व्यवस्था की है।
 
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept