Agriculture Reform Bills: बेरोजगार युवा और किसान मिलकर इस सरकार को उखाड़ फेंकेंगे : Tejaswi Yadav - Watch Video

Publish Date: 18 Sep, 2020
 

Agriculture Reform Bills: लोकसभा में गुरुवार को सत्ताधारी एनडीए के एक घटक विपक्ष और शिरोमणि अकाली दल (एसएडी) के विरोध के बीच कृषि क्षेत्र से संबंधित दो विधेयक पारित किए गए। मूल्य आश्वासन और फार्म सेवा विधेयक पर किसानों के उत्पादन व्यापार और वाणिज्य विधेयक और किसान (सशक्तीकरण और संरक्षण) समझौते को ध्वनि मत से पारित किया गया। वहीं इस बिल के विरोध में कांग्रेस, डीएमके और रिवोल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी के सदस्यों ने वॉकआउट किया। इस बिल के विरोध में हजारों किसान सड़क पर उतर आए हैं। इसी कड़ी में बिहार के नेता Tejaswi Yadav ने सरकार पर निशाना साधा है। नौजवान के बाद किसान अब सरकार के निशाने पर, आरजेडी किसान विरोधी ड़बल इंजन सरकार द्वारा लोकसभा में पारित किसान विरोधी अध्यादेशों पर मुखरता से अपना पुरजोर विरोध प्रकट करती है। बेरोज़गार युवा और किसान मिलकर इस निकम्मी सरकार को उखाड़ फेकेंगे। आपको बता दें कि, नरेंद्र मोदी सरकार में शिरोमणि अकाली दल (SAD) के एकमात्र मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने इस बिल के विरोध में इस्तीफा दे दिय है। कौर ने एक ट्वीट में कहा, "मैंने किसान विरोधी अध्यादेशों और कानून के विरोध में केंद्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया है। किसानों के साथ उनकी बेटी और बहन के रूप में खड़े होने का गर्व है।" कौर ने आगे कहा, "हजारों किसान सड़कों पर हैं। मैं सरकार का हिस्सा नहीं बनना चाहती था कि किसानों की आशंकाओं को दूर किए बगैर सदन में बिल पास हो जाए। इसीलिए मैंने इस्तीफा दे दिया।" सांसद ने पीएम को संबोधित चार पन्नों के त्याग पत्र में लिखा, "मेरा फैसला मेरी पार्टी की दृष्टि, इसकी शानदार विरासत और किसानों के हितों की रक्षा के लिए किसी भी हद तक जाने की प्रतिबद्धता का प्रतीक है।" बादल ने कहा, "हम किसानों के साथ खड़े हैं और उनके लिए कुछ भी करेंगे। हमारी पार्टी द्वारा अगली कार्रवाई की जाएगी, जिसके लिए जल्द ही एक बैठक होगी।" इस खबर के बारे में और अधिक जानने के लिए देखिए ये Video…

 

Related videos

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept