Ambala में Rafale के स्वागत की तैयारी शुरू, Ambala Airbase का 3 किमी एरिया 'नो ड्रोन जोन' घोषित - WATCH VIDEO

Publish Date: 28 Jul, 2020
 
India और China के बीच पिछले कुछ समय से सीमा पर विवाद चल रहा है। इसी बीच खबर आई है कि वायुसेना को 29 जुलाई को Rafale मिलने जा रहा है। सोमवार को France से 5 Rafale विमानों ने भारत के लिए उड़ान भर चुके हैं। Rafale के लिए Ambala Airbase पूरी तरह से तैयार है। इस लड़ाकू विमान के लिए airbaseविशेष प्रबंध किए गए हैं। सुरक्षा के मद्देनजर भी Ambala एयरबेस को लेकर प्रशासन ने कड़े कदम उठाए हैं। जहां Rafale को लेकर एयरबेस पहले से ही तैयार हैं वहीं अब एयरफोर्स और Ambala प्रशासन ने Airbase के 3 किलोमीटर के दायरे को नो ड्रोन जोन घोषित कर दिया है। Ambala Airbase पर बंदोबस्त को लेकर जानकारी देते हुए Ambala छावनी के DSP ने बताया कि ये अंबाला के लिए गर्व की बात है और अगर कोई नियमों की उल्लंघन करता है तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई भी की जाएगी। आपको बता दें कि France से भारत आने में Rafale 7000 किलोमीटर की दूरी तय करेगा, जबकि France एयरफोर्स का टैंकर Rafale को रास्ते में एयर टू एयर ईंधन सप्लाई करेगा। 7000 किलोमीटर की इस यात्रा में Rafale संयुक्त अरब अमीरात में एक जगह रूकेगा। आपको बता दें कि, Rafale विमान फ्रांस की डेसाल्ट कंपनी द्वारा बनाया गया 2 इंजन वाला लड़ाकू विमान है। राफेल लड़ाकू विमानों को ओमनिरोल विमानों के रूप में रखा गया है, जो कि युद्ध के समय अहम रोल निभाने में सक्षम हैं। हवाई हमला, जमीनी समर्थन, वायु वर्चस्व, भारी हमला और परमाणु प्रतिरोध ये सारी राफेल विमान की खूबियां हैं साथ ही इसकी अधिकतम स्पीड 2,130 किमी/घंटा और 3700 किमी तक मारक क्षमता 24,500 किलो उठाकर ले जाने में सक्षम और 60 घंटे अतिरिक्त उड़ान की गारंटी 50 किमी की बियोंड विज़ुअल रेंज मिसाइल, हवा से जमीन पर मार वाली स्कैल्प मिसाइल यह दो इंजन वाला लड़ाकू विमान है।
 

Related videos

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept