Attack on Ex-Navy Officer: Sanjay Raut का बयान- Maharashtra एक बड़ा राज्य है, किसी के भी साथ ऐसा हो सकता है- Watch Video

Publish Date: 14 Sep, 2020
 

Attack on Ex-Navy Officer: महाराष्‍ट्र की राजधानी मुंबई में अभी कंगना रनौत के ऑफिस में बीएमसी के द्वारा की गई तोड़फोड़ का मामला शांत भी नहीं हुआ था कि एक दूसरा मामला सामने आया उठ खड़ा हुआ है. रिटायर्ड नेवी मदन लाल शर्मा के द्वारा एक कार्टून शेयर किया गया था. इससे नाराज कुछ शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने उनके साथ कल मारपीट की थी. इस बीच गिरफ्तार किए गए 6 आरोपियों को जमानत भी मिल गई है. शिवसेना के इन सभी कार्यकर्ताओं को पुलिस स्टेशन से ही जमानत मिल गई है. पुलिस का तर्क है कि जो सेक्शन एफआईआर में था, उसमें 7 साल से कम की सज़ा है, इसलिए उन्हें पुलिस स्टेशन से ही जमानत मिल गई. हालांकि पीड़ित परिवार ने पुलिस के इस तरह जमानत देने पर सवाल खड़े किए हैं. आपको बता दें कि नौसेना के रिटायर्ड अधिकारी मदन शर्मा ने बताया, 'देश में सबको अभिव्यक्ति की आजादी है. वॉट्सऐप सबके साथ जुड़े रहने का एक माध्यम है. कोई भी मेसेज या कार्टून कहां से बनता है, सरकार को उस पर ध्यान देना जरूरी है. वॉट्सऐप पर एक कार्टून को मैंने ग्रुप में शेयर किया. इसके बाद शिवसेना के कुछ लोगों ने मुझे फोन कर गेट पर बातचीत के लिए बुलाया. मैं गेट पर गया तो वहां कोई बातचीत नहीं की गई, बल्कि मारपीट की गई.' इसी मामले में अब संजय राउत का बयान आया है. संजय राउत ने कहा, ''आरोपियों ने ऐसा करने से पहले पार्टी से नहीं पूछा था. महाराष्ट्र एक बड़ा राज्य है. इस तरह की घटना किसी के साथ हो सकती है. क्या आप जानते हैं कि यूपी में कितने पूर्व सैनिकों पर हमला होता है? लेकिन रक्षा मंत्री उन्हें फोन नहीं करते हैं. हमारी सरकार मानती है कि किसी निर्दोष व्यक्ति पर हमला नहीं होना चाहिए.'' 

 

 

Related videos

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept