Bihar Unlock Guideline: बिहार में लॉकडाउन हुआ खत्म, अनलॉक- 1 की छूट में जानें क्या खुलेगा क्या रहेगा बंद

Publish Date: 08 Jun, 2021 |
 

Bihar Unlock Guideline:

भारत के अन्‍य प्रदेशों के जैसे ही बिहार में भी कोरोना का कहर अब काबू में आ रहा है। प्रदेश के अलग-अलग जिलों में कोरोना के मामलों में काफी कमी दर्ज की गई है। ऐसे में लॉकडाउन-4 का आज आखिरी दिन है। आज बिहार में आपदा प्रबंधन समूह की बैठक हुई। इसमें तय किया गया है कि बिहार में अनलॉक लागू किया जाएगा। कोरोना वायरस के मामले लगातार घट रहे हैं। इसको देखते हुए प्रदेश की सरकार ने अनलॉक- 1 में कई नई तरह की छूट दी हैं। सीएम नीतीश कुमार ने इसका ऐलान कर दिया है। बिहार सरकार की ये कोशिश है कि कोरोना महामारी को नियंत्रण में रखते हुए आम जन-जीवन को फिर से पटरी पर लाया जा सके।

1

9 जून से प्रभावी होंगे अनलॉक के प्रावधान

9 जून से अनलॉक के प्रावधान प्रभावी होंगो। इसके अनुसार अब दुकानों को खोलने का समय रोजाना शाम 5 बजे तक बढ़ा दिया गया है। आज तक सभी दुकानें अपराह्न 2 बजे तक ही खुल रहीं थीं। यहां नाईट कर्फ्यू भी शाम के 7 बजे से सुबह के 5 बजे तक जारी रहेगा। दिन के समय में गाड़ियों के परिचालन पर कोई रोक नहीं रहेगी। इसके साथ निजी कार्यालय भी 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ अब खोला जा सकता है। अभी तक सबको वर्क फ्रॉम होम की अनुमति दी गई थी। वहीं, सरकारी कार्यालयों में भी 50 प्रतिशत तक Employees की उपस्थिति हो सकती है। 

 

प्रदेश में अब तक 4 बार हो चुका है लॉकडाउन 

प्रदेश में अब तक चार बार लॉकडाउन का विस्तार हो चुका है। लॉकडाउन-4 का समय आज यानी कि 8 जून को खत्म होने जा रहा है। सीएम नीतीश कुमार मंत्रियों और पदाधिकारियों के साथ विचार-विमर्श करने के बाद लॉकडाउन को लेकर ये फैसला किया है। 

 

5 मई 2021 से बिहार में जारी था लॉकडाउन

कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए प्रदेश की सरकार ने 5 मई से बिहार में लॉकडाउन लागू कर दिया था। लॉकडाउन का पहला चरण 15 मई तक था। फिर इसे 25 तारीख तक बढ़ाया गया। हालात की सीमाक्षा करने के बाद सरकार ने एक हफ्ते तक इसे और बढ़ाने का फैसला लिया जा सकता है। इसके बाद फिर 2-8 जून तक के लिए लॉकडाउन-4 बढ़ाया गया जो मंगलवार यानी कि आज तक प्रभावी है।

 
 
 

Related videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept