Law Career Options : Law में करियर कैसे बनाये, कोर्स, जॉब और सैलरी, जानें सब कुछ – Watch Video

Publish Date: 29 Nov, 2020
 

Law Career Options : अगर आपने अभी बारहवीं पास की है और लॉ में अपना करियर बनाने की सोच रहे हैं तो आप सही जगह आए हैं। इस Video में हम आपको बताने वाले हैं कि आप लॉ में अपना करियर कैसे बना सकते हैं? Lawyer बनाने के बाद कितनी सैलरी मिलेगी? Lawyer का क्या काम होता है? इन सभी सवालों के जवाब आपको इस Video में मिल जाएगा। लॉ में करियर युवाओं के बीच पिछले कुछ सालों में काफी लोकप्रिय हुआ है। लॉ चुनौतियों से भरा होने के बाद भी हमेशा से एक आकर्षक करियर विकल्प है। भारत में लॉ हमेशा एक बड़ी मांग का पेशा रहा है। बदलती सामाजिक और आर्थिक परिस्थितियों और सरकार द्वारा लगातार बढ़ती नियामक भूमिका के कारण Lawyer की मांग बढ़ रही है। ऐसे में आप लॉ को अपने करियर के रूप में चुन सकते हैं। Lawyer वह होता है जो कानूनी दांवपेचों को जानने और समझने में कुशल हो। साथ ही Lawyer किसी सरकार या एजेंसी अधिकृत वह व्यक्ति होता है जो अपने क्लाइंटों को कानूनी मुद्दों पर सलाह देता है। अन्य पेशेवरों जैसे डॉक्टर और चार्टर्ड एकाउंटेंट वैसे ही वकीलों को भी अपने कौशल को चमकाने और अपने क्लाइंटों के दिल में विश्वास जगाने के लिए आवश्यकता होती है अनुभव की। एक Lawyer के लिए सफलता और धन के साथ-साथ शक्ति की कोई सीमा नहीं है। Lawyer को न केवल सम्मान दिया जाता है, बल्कि न्याय के लिए उनकी लड़ाई में लोगों की मदद भी की जाती है।

Law Courses and Admission Criteria

लॉ में करियर बनाने के इच्छुक छात्र या तो किसी भी विषय में Graduation के बाद तीन वर्षीय लॉ कोर्स कर सकते हैं या फिर 12 वीं कक्षा के बाद 5 साल का लॉ कोर्स कर सकते हैं। लेकिन 3 साल के कोर्स से ज्यादा 5 साल के कोर्स को महत्व दिया जाता है। 5 साल का पाठ्यक्रम उन लोगों के लिए है जो कानून को एक कैरियर के रूप में लेना चाहते हैं चाहे वह एक मुकदमेबाज, या किसी अन्य प्रकार के कानूनी पेशेवर के रूप में हो। अगर आप इस फील्ड में सीरियस है तो आपको कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट (CLAT) देना चाहिए। इस टेस्ट में पास होने के बाद आप देशभर के कुछ टॉप लॉ कॉलेजों में दाखिला ले सकते हैं। कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट ( CLAT ) मूल रूप से छात्र की सामान्य अंग्रेजी, कानूनी योग्यता, सामान्य जागरूकता, तार्किक कौशल आदि का परीक्षण करता है।  CLAT का आयोजन केवल इंगलिश भाषा में होता है।

Law Courses कुछ इस प्रकार है

 LLB, अवधि - 3 वर्ष
 BA LLB (Hons),अवधि – 5 वर्ष
BSc LLB (Hons),अवधि - 5 वर्ष
 B.Com LLB (Hons),अवधि - 5 वर्ष

LLM

PHD

Top Law Colleges

नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ ज्यूरिडिकल साइंसेज, कोलकाता

नेशनल लॉ इंस्टीटय़ूट यूनिवर्सिटी, भोपाल

बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी, वाराणसी

गुरु गोविंद सिंह इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी, दिल्ली

नल्सर यूनिवर्सिटी ऑफ लॉ, हैदराबाद

सिंबायोसिस सोसायटीज लॉ कॉलेज, पुणे

नेशनल लॉ स्कूल ऑफ इंडिया यूनिवर्सिटी, बेंगलुरु

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी

फैकल्टी ऑफ लॉ, यूनिवर्सिटी ऑफ दिल्ली

नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी, जोधपुर

गुजरात नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी

Job Opportunities after doing Law

सबसे बड़ा सवाल ये है कि लॉ ग्रेजुएट होने के बाद आपके पास क्या अवसर होते हैं। लॉ ग्रेजुएट करने के बाद आप कानून की अदालत में एक लॉयर के रूप में अभ्यास कर सकता है या कॉर्पोरेट फर्मों के साथ काम कर सकता है। लॉ ग्रेजुएट होने के बाद आप सरकारी या निजी संस्थान में काम कर सकते हैं। देशभर में कई लॉ फर्म भी लॉ ग्रेजुएट को काम देती है। लोक सेवा आयोगों द्वारा आयोजित परीक्षाओं को मंजूरी देकर, एक कानून स्नातक एक न्यायाधीश बन सकता है। अनुभव प्राप्त करने के बाद, लॉ ग्रेजुएट सॉलिसिटर जनरल, पब्लिक प्रॉसिक्यूटर बनने की उम्मीद कर सकता है या सरकारी विभागों और मंत्रालयों को सेवाएं दे सकता है।

Salary after Law Graduate / Lawyer

अगर आपने टॉप लॉ संस्थान से अपना कोर्स किया है तो आपको अच्छा पैकेज मिल जाएगा। लेकिन ये आपकी योग्यता और अनुभव निर्भर करता है कि आप कितनी सैलरी होगी। जब आप एक लॉयर जो अदालत में प्रैक्टिस शुरू करना चाहता है, वह जिस लॉयर के साथ जुड़ा हुआ है, उसके आधार पर 5000 रुपये से 40,000 रुपये तक का वजीफा मिल सकता है। यह बहुत अधिक भुगतान वाला पेशा है, लेकिन उम्मीदवार की लोकप्रियता और सफलता पर काफी हद तक निर्भर करता है। किस कॉलेज से आप स्नातक हैं। इस बात पर भी आपक पैकेज निर्भर करता है। अगर आपने एक टॉप लॉ संस्थान से कोर्स किया है तो आपको पूरे साल का पैकेज 2,00,000 से 30,00,000 तक मिल सकता है। आपको बता दें कि टॉप और नामी लॉयर अपनी एक पेशी के लाखों रुपए लेते हैं।

 

 

Related videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept