Lalu Yadav पर अपनी टिप्पणी को लेकर सीएम नीतीश ने तोड़ी चुप्पी, दी सफाई- Watch Video

Publish Date: 28 Nov, 2020 |
 

 

17वीं बिहार विधानसभा के पहले सत्र के अंतिम दिन सदम में जमकर हंगामा हुआ। विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव द्वारा किए गए सीएम पर निजी हमले के बाद जबरदस्त हंगामा मच गया। तेजस्वी ने दावा किया कि सीएम हत्या के एक मामले में एक अभियुक्त हैं और एक व्यक्तिगत टिप्पणी की है, बाद वाले ने नाराजगी जताई और पूर्व-डिप्टी सीएम के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोपों के साथ जवाब दिया। यह दावा करते हुए कि यादव "बकवास बात कर रहे हैं", जदयू अध्यक्ष ने दावा किया कि वह इस मामले की जांच का स्वागत करेंगे।आरोपों को खारिज करते हुए तेजस्वी यादव ने 1991 की हत्या के मामले का जिक्र किया - जिसमें सीएम को क्लीन चिट दी गई है। इसके बाद तेजस्वी ने कहा कि सीएम ने चुनावी ओं में उनके पिता लालू यादव के बच्चों पर टिपण्णी की थी। कहा था कि उन्होंने बेटों के लिए 9 बच्चे पैदा किए, उन्हें बेटे बेटी पर भरोसा नहीं था.क्या नीतीश जी को लडक़ी पैदा होने का डर था? उनकी इस बात पर सदम में हंगामा मच गया। इस दौरान विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा शांत रहने के लिए कह रहे थे। विधानसभा अध्यक्ष ने सीएम पर किए गए निजी टिप्पणियों और असंसदीय शब्दों को कार्यवाही से हटाने का निर्देश दिया है। वहीं सीएम ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि “वो राज्य की प्रजनन दर के बारे में बात करते रहे हैं. इस दौरान हल्की-फुल्की बातों को वो (तेजस्वी यादव) कुछ और समझ गए।” इसी के जवाब में अब सीएम का बयान आया है। उन्होंने कहा कि “हमने तो केवल मजाक में इस बात की चर्चा की थी। हम प्रजनन दर की बात कर रहे थे और इसी संदर्भ में हमने मजाक में कुछ बातें कहीं। कुछ लोगों ने खुद ही इसको अपने बारे में सोच लिया।” आपको बता दें कि, 2020 के बिहार विधानसभा चुनाव में 57.05% मतदान हुआ, जबकि 2015 के चुनावों में यह 56.66% था। महागठबंधन द्वारा जीती गई 110 सीटों के मुकाबले 125 सीटों पर एनडीए के साथ विजयी हुई है। 



 

 

Related videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept