Coronavirus India Update : DCGI ने Serum Institute को भेजा नोटिस, Oxford COVID-19 Vaccine का ट्रायल रुका – Watch Video

Publish Date: 10 Sep, 2020
 

Coronavirus India Update : Coronavirus का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। देश में कोरोनावायरस के मामले 44 लाख के पार पहुंच चुके हैं। इसी बीच पूरी दुनिया की नजर Coronavirus की Vaccine पर है लेकिन अब खबर आई है कि Cronavirus Vaccine के लिए आपको और इंतजार करना पड़ सकता है। दरअसल, DCGI ने Serum Institute of India (SII) को एक कारण बताओ Notice जारी किया है, जिसमें कहा गया है कि कंपनी ने वैक्‍सीन ट्रायल को लेकर ताजा अपडेट उसे नहीं दी। DCGI ने नोटिस भेजकर पूछा है कि जब तक मरीज की सुरक्षा पर सवाल है, तब तक आप को मिली क्लीनिकल ट्रायल की इजाजत क्यों ना निलंबित कर दी जाए? अब सी Serum Institute of India को इस नोटिस का जल्‍द से जल्‍द जवाब देना है।  Serum Institute of India  ने Astrazeneca के साथ Cronavirus Vaccine की एक अरब डोज बनाने की डील कर रखी है। भारतीय कंपनी Astrazeneca के संभावित टीके का भारत में क्लिनिकल ट्रायल कर रही है। इसी बीच खबर आई थी कि, Oxford Vaccine Trial के दौरान एक शख्स बीमार पड़ गया। जिसके बाद Oxford ने अपने सभी Trial को रोक दिया है। इस बात की जानकारी Serum Institute ने अभी तक DCGI को नहीं दी है। Serum Institute पुणे ने अब तक DCGI को अन्य देशों में Astrazeneca द्वारा किए गए परीक्षण को रोकने के बारे में सूचित नहीं किया है और साथ ही जांच के लिए टीका के साथ रिपोर्ट की गई गंभीर प्रतिकूल घटना का विश्लेषण प्रस्तुत नहीं किया है। जिसके बाद DCGI ने नोटिस जारी किया है। Astrazeneca उन 9 कंपनियों में से एक है, जिनकी वैक्सीन का ट्रायल बड़े स्तर पर हो रहा है। इस वैक्‍सीन के ट्रायल के लिए 30,000 वॉलंटियर्स को ट्रायल के लिए भर्ती किया है। इस वैक्‍सीन के लिए कई देशों ने करोड़ डोज का आर्डर भी दे दिया है, जिनमें अमेरिका भी शामिल है। Astrazeneca की Cronavirus Vaccine के Humar Trails फिलहाल रोक दिए गए हैं। इस खबर के बारे में और अधिक जानने के लिए देखिए ये Video…

 

Related videos

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept