Kapil Sibal के बाद Salman Khurshid ने भी कहा, CAA को मानने से इंकार करना राज्यों के लिए मुश्किल

Publish Date: 19 Jan, 2020
 
नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को लेकर शोर थामने का नाम नहीं ले रहा है। Congress leader Salman Khurshid ने रविवार को State Govt की ओर से Parliament द्वारा पारित Law को मानने से इंकार करना कठिन बताया। उन्हों ने Kapil Sibal के बयान पर मुहर लगाते हुए कहा कि संवैधानिक रूप से संसद से पारित कानून का अनुसरण करने से इंकार करना राज्य सरकार के लिए कठिन है। सलमान खुर्शीद कहा कि इस मामले पर केंद्र से राज्य सरकारों के विचार में काफी अंतर है। इसलिए हमें Supreme Court के अंतिम फैसले का इंतजार करना चाहिए। दरअसल, इससे पहले कपिल सिब्बल ने शनिवार को केरल लिटरेचर फेस्टिवल में कहा था कि कोई भी राज्य संसद से पारित कानून को लागू करने से इंकार नहीं कर सकता है। और इंकार करना असंवैधानिक होगा। बता दें कि सिब्बइल का यह बयान कांग्रेस शासित Punjab के CAA के खिलाफ विधानसभा में प्रस्ताव पारित करने के एक दिन बाद आया है। और Kerala ने पहले ही इस कानून को लागू नहीं करने के संबंध में विधानसभा में प्रस्ताव पारित कर चुका है। उसने सुप्रीम कोर्ट में भी इसे चुनौती दी है।
 

Related videos

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept