Election Commission bans victory processions: विधानसभा चुनाव के नतीजों को लेकर चुनाव आयोग का बड़ा ऐलान

Publish Date: 27 Apr, 2021 |
 

Election Commission bans victory processions:

भारत में कोरोना के मामलों इजाफे को देखते हुए चुनाव आयोग ने अहम फैसला लिया है। चुनाव आयोग ने 2 मई को होने वाले चुनाव के नतीजों के बाद जश्न मनाने पर रोक लगा दी है। आपको बता दें कि 2 मई को इन राज्यों के चुनाव के नतीजे घोषित होने वाले हैं।  इनमें शामिल है- पश्चिम बंगाल, असम, केरल, पुडुचेरी और तमिलनाडू। इन सब के अलावा यूपी में हो रहे पंचायत चुनाव के भी नतीजे 2 मई को आने वाले हैं। इन्हीं चुनाव के नतीजों के बाद जीत के जश्न में भीड़ न इकट्ठा हो इसके लिए ही चुनाव आयोग ने ये फैसला लिया है और जश्न पर रोक लगाया है। 


आपको बता दें कि इसी बीच मद्रास हाईकोर्टने सोमवार को चुनाव आयोग की कड़ी निंदा की है। कोर्ट ने चुनाव आयोग को देश में कोरोना की दूसरी लहर का जिम्मेदार ठहराया। कोर्ट ने कहा कि आयोग के खिलाफ हत्या का मुकदमा चलाया जाना चाहिए। मुख्य न्यायाधीश संजीब बनर्जी और न्यायमूर्ति सेंथिलकुमार राममूर्ति की खंडपीठ ने राज्य के परिवहन मंत्री एमआर विजयभास्कर की याचिका पर सुनवाई करते हुए यह टिप्पणी की।

कोर्ट ने चुनाव आयोग को देश की सबसे गैर जिम्मदेार संस्था बताया और कहा कि राजनीतिक पार्टियों को कोविड प्रोटोकाल का पालन कराने के लिए आयोग ने कुछ नहीं किया। कोर्ट ने आगे कहा कि चुनाव आयोग कोरोना की दूसरी लहर के लिए एक मात्र जिम्मेदार है, अगर आयोग के अधिकारियों पर हत्या का मुकदमा चलाया जाए तो यह गलत नहीं होगा। हमारे पास अधिकार का प्रयोग करने की किसी भी तरह की कमी नहीं है। कोर्ट के कहने के बावजूद रैलियों आयोजित करने वाले राजनीतिक दलों पर आपने कोई कार्रवाई नहीं की।

 

Related videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept