Bihar के पूर्व DGP Gupteshwar Pandey का बयान, मैं कहीं से भी जीत सकता हूं- Watch Video

Publish Date: 24 Sep, 2020
 

पुलिस महानिदेशक (DGP) बिहार गुप्तेश्वर पांडे ने सेवाओं से जल्द सेवानिवृत्ति की मांग की है और राज्य के राज्यपाल फागू चौहान ने कथित तौर पर उनका इस्तीफा स्वीकार कर लिया है। अक्टूबर-नवंबर में होने वाले बिहार में विधानसभा चुनाव से पहले ये होगा। बिहार कैडर के 1987 बैच के आईपीएस अधिकारी गुप्तेश्वर पांडे ने हाल ही में बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले की जांच के दौरान सुर्खियां बटोरी थीं। पुलिस के इस्तीफे के अनुरोध के संबंध में एक अधिसूचना गृह विभाग द्वारा जारी की गई थी, उसका अंतिम कार्य दिवस 22 सितंबर था। दिवंगत अभिनेता की मौत के मामले में पांडे मुंबई पुलिस की खुलेआम आलोचना कर रहे थे। उन्होंने यह भी कहा कि जब उन्होंने कहा था कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर टिप्पणी करने के की रिया चक्रवर्ती की कोई औकात नहीं है, इसपर विवाद खड़ा हो गया था। इसी बीच अब पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि बिहार की जनता मुझे बहुत प्यार करती है। मैं कहीं चुनाव लड़ा तो जीत सकता हूं। चुनाव से मेरे वीआरएस को जोड़ना गलत है। उन्होंने आगे कहा कि मेरे खिलाफ हर रोज अफवाह उड़ाकर मुझे विवादित बनाया जा रहा है। मेरे खिलाफ विपक्ष, चुनाव आयोग से शिकायत करता और अगर चुनाव आयोग मुझे हटा देता तो मेरी कितनी बेइज्जती होती। 34 साल तक बेदाग रहा, लेकिन इस तरह का माहौल बना दिया गया कि निर्वाचन आयोग को मुझे हटाना पड़े। उन्होंने कहा कि मेरे खिलाफ साजिश हो रही थी। मुझे अपमानित करके हटाने का प्लान था। मैं समझ गया और मैंने वीआरएस लेने का फैसला किया। किसी राजनीतिक दल में शामिल हो जाना या चुनाव लड़ जाना, पाप है क्या? अगर मैं चुनाव में जाने का फैसला करता हूं तो इसमें क्या अनैतिक और अवैध है।


 

 

Related videos

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept