Hindi Diwas : हिंदी के Bestselling साहित्यकारों से जानिए क्यों घटता जा रहा है हिंदी भाषा का महत्व – Watch Video

Publish Date: 13 Sep, 2020
 

Hindi Diwas :  हर साल 14 जनवरी को हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है। हिंदी दिवस मनाने का उद्देश्य है विदेशों में हिंदी भाषा के उपयोग को बढ़ावा देना है।  हिंदी दिवस के खास मौके पर हमने साहित्यकारों से चर्चा कि है और हिंदी में कम होती युवा की रुची बारे मे चर्चा की है। आज के इस युग में जहा हिंदी के कम होते महत्व को लेकर दैनिक जागरण की स्वस्थ एवं लाइफस्टाइल हेड Megha Mamgain ने 5 बड़े लेखकों से - अनु सिंह चौधरी, कुमार रवि, दिव्य प्रकाश दुबे, विजयश्री तनवीर और अशोक कुमार से बात की है। लेखिका अनु सिंह चौधरी ने हिंदी के कम होते महत्व पर कहा कि, 'जो नए प्लेटफॉर्म आए हैं, वो चाहें सोशल मीडिया हो या सुनने के प्लेटफॉर्म जैसे ऑडिबल, जहां अगर आपको लिपी पढ़नी नहीं आती लेकिन कहानियों से प्रेम है तो भी आप हिंदी साहित्य से जुड़ेंगे। हिंदी की कहानियां आप इसलिए सुनेंगे क्योंकि अपनी भाषा को और बेहतर तरीके से जानने की, सुनने की, समझने की एक तरह की उत्सुक्ता है'  दिव्य प्रकाश दुबे के कहा कि ‘मेरा मानना है कि कहानी ऐसी लिखनी चाहिए जैसे किसी को सुना रहे हों। मेरी किताबें वो लोग पढ़ रहे हैं जिन्होंने पहले मेरी कहानियां सुनी हैं। इस माध्यम और तकनीक के मिश्रण से हम साहित्य को और भी ज्यादा लोगों तक ले जा पाएंगे।' हिंदी दिवस के बारे में और अधिक जानने के लिए देखिए ये Video…

 

Related videos

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept