Immunity Boosting Kadha: ज्‍यादा काढ़ा पीने से हो सकते हैं ये नुकसान, इम्‍यून‍िटी बढ़ाने के लिए इस मात्रा में पीएं काढ़ा- Watch Video

Publish Date: 14 Oct, 2020
 

Immunity Boosting Kadha:  कोरोना से बचने के लिए आजकल हर कोई आयुर्वेदिक नु्स्खों पर भरोसा कर रहा है। कोरोना से संक्रमित ना हो जाएं, इसके लिए इम्यूनिटी को मजबूत बनाए रखना जरूरी है। ऐसे में एक्सपर्ट्स इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए आयुर्वेदिक काढ़ा (Kadha), हल्दी दूध (Haldi doodh), नींबू-पानी (Lemon water) पीने की सलाह दी जा रही है। कुछ लोग ऐसे भी हैं, जो खुद को कोरोना से बचाए रखने के लिए दिन भर दो से तीन बार काढ़ा, हल्दी वाला दूध पी जाते हैं। लेकिन ऐसा करना गलत है। ये आपके स्वास्थ्य लिए हानिकारक है। रोजाना इस्तेमाल करने पर अगर आपको कोई लक्षण नजर आ रहा है तो समझिए आप इसका ज्यादा मात्रा में सेवन कर रहे हैं। आपको नाक से खून बहना, पेशाब आने में दिक्कत, मुंह में फोड़ा, खट्टी डकार और बहुत ज्यादा पेट की गैस की समस्या का सामना करना पड़ सकता है।काढ़ा इस्तेमाल करनेवालों को मात्रा पर ध्यान देना चाहिए। 50 मिलीलीटर से ज्यादा काढ़े का सेवन नहीं करना चाहिए। 100 मिलीलीटर पानी में काढ़ा के घटकों को उबलने के लिए छोड़ दें। इस तरह जब घटकर 50 मिलीलीटर हो जाए तो उसका सेवन किया जा सकता है।काढ़ा बनाने के लिए आप कुछ चीजों का इस्तेमाल कर सकते हैं, उनकी मात्रा में हमेशा अच्छा संतुलन रखें। आपको बता दें कि नींबू में विटामिन सी सबसे अधिक होता है और विटामिन सी को इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए बेस्ट माना गया है। विटामिन सी से शरीर को और भी कई लाभ होते हैं। इम्यूनिटी को बेहतर बनाने के लिए आप नींबू पानी एक दिन में 2 बार पी सकते हैं। वैसे, नींबू में साइट्रिक एसिड भी सबसे अधिक होता है, जो शरीर में मौजूद क्षारीय सामग्री को नुकसान पहुंचा सकता है। जिन लोगों को गैस्ट्रिक स्ट्रेस, एसिड रिफ्लक्स की समस्या है, उन्हें नींबू का जूस, नींबू पानी आदि पीने से बचना चाहिए। 

 

 

Related videos

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept