IND vs SA: Coronavirus का cricket पर असर, BCCI ने कहा 'आखरी 2 ODIs बिना spectators के खेले जाएंगे'

Publish Date: 13 Mar, 2020
 
देशभर में Coronavirus के बढ़ते मामलों को देख भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने भी कड़े कदम उठाने शुरू कर दिए. इसी कड़ी में BCCI ने Coronavirus के बचाव के लिए घोषणा करते हुए कहा कि भारत के 2020 के South Africa दौरे के तीन match की series के शेष दो एक One day international match (ODIs) (India vs South Africa) दर्शकों के बिना खेले जाएंगे. BCCI ने ये जानकारी अपने twitter हैंडल और website पर भी दी है. Ministry of Health & Family Welfare से परामर्श कर BCCI ने ये फैसला किया कि अगर किसी sports tournaments को रोका नहीं जा सकता तो उस खेल का आयोजन बिना दर्शकों के खाली stadiumमें करवाया जाएगा. BCCI का कहना है कि उन्हें Ministry of Youth Affairs & Sports का परामर्श मिला है जिसके चलते अगर वे खेलों के लिए भीड़ जुटाने से बचने की सलाह पर पालन करेंगे. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने बुधवार को आकलन किया कि COVID-19 को pandemic के रूप में लिया जा सकता है. BCCI भारत सरकार के आदेशों का अनुपालन का रहा है और ऐसे वे अपने एथलीटों और fans की सुरक्षा सुनिश्चित कर रहा है. बता दें कि भारत और South Africa के बीच पहला वनडे बारिश के कारण रद्द कर दिया गया था. WHO के Coronavirus को एक महामारी घोषित करने के बाद खेल मंत्रालय ने गुरुवार को बीसीसीआई सहित सभी राष्ट्रीय खेल महासंघों को एक एडवाइजरी जारी करते हुए उनसे यह सुनिश्चित करने के लिए कहा कि उनके द्वारा आयोजित "किसी भी खेल समारोह में कोई सार्वजनिक सभा नहीं हो". इस बीच अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ (एआईएफएफ) ने कहा कि चैंपियन मोहन बागान और ईस्ट बंगाल के बहुप्रतीक्षित मैच सहित आईलीग फुटबॉल टूर्नमेंट के 28 मैच कोविड-19 महामारी के कारण खाली स्टेडियम में खेले जा सकते हैं.भारत में COVID-19 यानि Coronavirus से प्रभावित मरीजों की संख्या 73 पहुंच गई है. Ministry of Health and Family Welfare ने गुरुवार को कोरोना वायरस से प्रभावित मरीजों की संख्या को लेकर बयान जारी किया.
 

Related videos

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept