Manoj Sinha ने जम्मू-कश्मीर के दूसरे उपराज्यपाल के रूप में ली शपथ, Srinagar में High Court के चीफ जस्टिस ने दिलाई शपथ – Watch Video

Publish Date: 07 Aug, 2020
 
Manoj Sinha New LG of jammu and Kashmir : Jammu-Kashmir को नया उपराज्यपाल मिल चुका है, ये पद अब BJP के दिग्गज नेता और पूर्व रेलमंत्री राज्य Manoj Sinha अब जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल पद संभाल लिया है। Manoj Sinha ने आज Jammu-Kashmir के नए उपराज्यपाल के रूप में शपथ ली। वह यहां के दूसरे उपराज्यपाल और पहले राजनीतिक व्यक्ति हैं जिन्होंने नए केंद्र शासित प्रदेश में यह जिम्मेदारी संभाली है। Girish Chandra Murmu के इस्तीफे के बाद यह पद खाली हुई था। Murmu को अब नया सीएजी नियुक्त किया गया है। पूर्व केंद्रीय मंत्री और उत्तर प्रदेश से BJP के वरिष्ठ नेता Manoj Sinha अपनी नियुक्ति के बाद गुरुवार Srinagar पहुंचे. वहां Airport पर DGP Dilbagh Singh ने उनका स्वागत किया और साथ ही अन्य अधिकारी भी मौजूद थे। Srinagar के राजभवन में शुक्रवार को Jammu-Kashmir हाईकोर्ट की चीफ जस्टिस गीता मित्तल ने उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई गई। शपथ ग्रहण के बाद उन्हें जम्मू कश्मीर पुलिस की ओर से गॉर्ड ऑफ ऑनर पेश किया गया। वहीं शपथ ग्रहण के बाद उपराज्यपाल Manoj Sinha ने मीडिया से बात करते हुए कहा, “कश्मीर भारत का स्वर्ग है, मुझे यहां भूमिका निभाने का अवसर दिया गया है। 5 अगस्त एक महत्वपूर्ण तारीख है। जम्मू-कश्मीर मुख्यधारा में आया है। वर्षों के बाद यहां कई परियोजनाएं शुरू हुईं, मेरी प्राथमिकता उन परियोजनाओं को आगे ले जाना है।” उन्होंने आगे कहा, “किसी के साथ कोई पक्षपात नहीं होगा. संवैधानिक शक्तियों का उपयोग लोगों के कल्याण के लिए किया जाएगा। मैं लोगों को विश्वास दिलाता हूं कि उनकी वास्तविक शिकायतों को सुना जाएगा और हम समाधान का रास्ता खोजने की कोशिश करेंगे। यहां विकास को आगे ले जाना ही मेरा उद्देश्य है।” Manoj Sinha की बात जाए तो पिछले साल हुए लोकसभा चुनाव में उन्होंने Ghazipur से चुनाव लड़ा था लेकिन वह नहीं जीत सके थे। गठबंधन के BSP उम्मीदवार अफजाल अंसारी से उन्हें 119,392 वोटों से हरा दिया था। 2014 के चुनाव में भी सिन्हा ने समाजवादी प्रत्याशी शिवकन्या कुशवाहा को 32,452 वोटों से हराया था। 2014 में मनोज सिन्हा को कुल 306,929 वोट मिले थे। तब सपा और बसपा ने अलग-अलग चुनाव लड़ा था। वहीं यूपी के 2017 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी को भारी जीत के बाद Manoj Sinha मुख्यमंत्री पद की रेस में सबसे आगे थे। हालांकि, पार्टी की ओर से Yogi Adityanath का नाम आगे बढ़ाया गया। आपको बता दें पिछले साल 31 अक्टूबर 2019 को पूर्ववर्ती जम्मू एवं कश्मीर राज्य के दो केंद्रशासित प्रदेशों- जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के तौर पर विभाजन के वजूद में आने के बाद Chandera Murmu नए केंद्रशासित प्रदेश के पहले एलजी बने थे। उन्होंने जम्मू-कश्मीर के पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक की जगह ली थी। पूर्वांचल से आने वाले Manoj Sinha की गिनती Prime Minister Narendra Modi के भरोसेमंद नेताओं में होती है।
 

Related videos

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept