Jagran Top News : 1 मई से 18+ को लगेगा कोरोना का टीका, Lockdown के आदेश को UP सरकार की चुनौती – Watch Video

Publish Date: 20 Apr, 2021 |
 

 

 

Jagran Top News : भारत में कोरोना का प्रकोप कम होने का नाम नहीं ले रहा है।देश में तेजी से कोरोना के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के अनुसारदेश में कोरोना के मामले 1करोड़ 52 लाख के पार पहुंच चुके हैं। पिछले 24 घंटे में कोरोना 2,59,170 में नए मामले सामने आए हैं। जो अब तक का सबसे बड़ा स्पाइक है। इस दौरान  1,54,761 मरीज ठीक हो गए और 1,761 लोगों की मौत हुई है। अब तक मरने वालों की संख्या बढ़कर 1,80,530 हो गई है।

18 साल से ऊपर की उम्र वालों को 1 मई से लगेगा वैक्सीन

भारत सरकार ने COVID-19 टीकाकरण के तीसरे चरण के रणनीति की घोषणा की। जिसके तहत 1 मई से 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोग टीका लगवा सकते हैं।पीएम मोदी ने सोमवार को कोरोना स्थिति को लेकर कई बैठकों के बाद इस फैसले का ऐलान किया गया है। सरकार की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि, “कोविड-19 टीकाकरण कार्यक्रम के तीसरे चरण के तहत सभी व्‍यस्‍कों का टीकाकरण किया जाएगा।” इससे पहले 45 साल और उससे अधिक उम्र के लोगों वैक्सीन लगाई जा रही है। बता दें कि भारत में कोरोना का टीकाकरण 16 जनवरी से शुरू किया गया था। अब तक देश में कुल 12,38,52,566 लोगों को वैक्सीन दी जा चुकी हैं।

 

दिल्ली में Lockdown के बाद फिर लौटने लगे प्रवासी मजदूर

 कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते सीएम अरविंद केजरीवाल ने राजधानी  में सोमवार रात 10 बजे से अगले सोमवार 26 अप्रैल सुबह 5 बजे तक लॉकडाउन लगा दिया है। लॉकडाउन लगते हुए सीएम केजरीवाल ने प्रवासी कामगारों से दिल्ली न छोड़ने की अपील की थी, लेकिन लॉकडाउन का ऐलान होते ही काले खां, आनंद विहारकौशांबी बस अड्डे से यूपी और बिहार के प्रवासी मजदूर पलायन करने लगे हैं। दोपहर से लेकर रात तक मुसाफिरों का रेला यहां नजर आया।

दिल्ली के सभी बस अड्डों पर भीड़ नजर आ रही है। बड़ी संख्या में प्रवासी मजदूर अलग-अलग इलकों से अपने घर को वापस लौटते हुए दिखाई दे रहे हैं। आया। बस अड्डे के आसपास जैसे ही लोगों को बस दिखती, उधर ही दौड़ पड़ते। बस में सीट न मिलने के चलते लोग बसों की छत पर सवार होकर यात्रा कर रहे हैं।

यूपी के 5 शहरों में लॉकडाउन नहीं

सुप्रीम कोर्ट ने इलाहाबाद हाई कोर्ट के उस फ़ैसले पर रोक लगा दी है जिसमें यूपी सरकार को निर्देश दिया गया था कि प्रदेश के 5 शहरों में लॉकडाउन लगाया जाए। 2 हफ्ते बाद फिर से इस मामले पर सुनवाई होगी। इसके साथ ही राज्य सरकार को निर्देश दिया है कि वह कोरोना के खिलाफ उठाए गए कदमों पर रिपोर्ट प्रस्तुत करें।

बता दें कि मंगलवार को इलाहाबाद हाई कोर्ट ने यूपी सरकार को निर्देश दिया था कि 19 अप्रैल से 26 अप्रैल तक प्रयागराजलखनऊवाराणसीकानपुर और गोरखपुर लॉकडाउन लगाया जाए। हाईकोर्ट के आदेश को यूपी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी, और हाईकोर्ट के फैसले पर रोक लगाने की मांग की थी। CJI एस.ए. बोबड़े की बेंच ने इस मामले पर सुनवाई की। सुनवाई के दौरान सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कहा कि कोरोना के खिलाफ कई सारे कदम उठाए जा रहे है। ऐसे में 5 शहरों को न्यायिक आदेश के ज़रिये लॉकडाउन में डालना सही नहीं है। इस खबर के बारे में और अधिक जानने के लिए देखिए ये Video…

 

Related videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept