Lockdown in Delhi AGAIN News : दिल्ली में फिर से Lockdown का कोई इरादा नहीं : Manish Sisodia – Watch Video

Publish Date: 18 Nov, 2020 |
 

Lockdown in Delhi AGAIN News : दिल्ली में कोरोना का कहर जारी है। दिल्ली में कोरोना के मामले 5 लाख के करीब पहुंच चुके हैं। पिछले कुछ दिनों से दिल्ली में कोरोना के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं। त्यौहार का सीजन आते ही दिल्ली में कोरोना के मामले बढ़ने लगे हैं। ऐसे में फिर एक बार सवाल पूछा जा रहा है क्या दिल्ली में फिर से लॉकडाउन होने वाला है? इस सवाल का जवाब आज दिल्ली के Deputy Chief Minister मनीष सिसोदिया ने दिया। मनीष सिसोदिया ने कहा कि,  “लॉकडाउन लगाने का कोई इरादा नहीं हैहमारा मानना है कि लॉकडाउन कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में समाधान नहीं है। बेहतर अस्पताल प्रबंधन और बेहतर चिकित्सा प्रणाली ही समाधान है। दिल्ली सरकार ने चिकित्सा प्रणाली को अच्छी तरह से प्रबंधित किया है और भविष्य में भी करेगी।”  उन्होंने ने आगे कहा कि, दिल्ली सरकार ने जो प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेजा उसमें हमने सिर्फ कोरोना से प्रभावित बाजरों को बंद करने की अनुमति मांगी है। साथ दिल्ली सरकार की योजन बाजरों में भीड़ कम करने की है। ताकि कोरोना का फैलाव न हो सके। दिल्ली में कोरोना के मामलों की बात करें तो पिछले 24 घंटों में कोरोना के मामले 6,396 मामले सामने आए हैं। जबकि 4421 मरीज स्वस्थ हुए हैं। इस दौरान 99 लोगों की मौत हो गई। दिल्ली में अब तक कोरोना से कुल 7,812 मौत हो चुकी है। दिल्ली में अब तक कुल 4,95,598 कोरोना के मामले सामने आए हैं। हालांकि इन में से अभी तक 4,45,782 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। दिल्ली में 17 नवंबर को 49,031 टेस्ट किए गए हैं। दिल्ली में अभी तक कुल 55,28,422 टेस्ट जा चुके हैं। दिल्ली में कोरोना की पॉजिटिविटी रेट 13.04 प्रतिशत है। वहीं मृत्यु दर 1.58 प्रतिशत है। दिल्ली वालों को इस बार दोहरी मार का सामना करना पड़ रहा है। दिल्ली में प्रदूषण के कारण भी लोगों का बुरा हाल हो रहा है। दिल्ली सरकार ने भी कोरोना के बढ़ते मामलों के वजह प्रदूषण को बताया है। इस खबर के बारे में और अधिक जानने के लिए देखिए ये video….

 

Related videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept