Monsoon Session 2021: जानें क्या है Pegasus Spying software, जिसे लेकर असदुद्दीन ओवैसी ने दागे सरकार पर सवाल

Publish Date: 19 Jul, 2021 |
 

 

 

 

Pegasus Spying : देश की राजनीति फिर एक बार गरमा गई है। पेगासस सॉफ्टवेयर मामले (Pegasus software case) के सामने आने के बाद विपक्ष सरकार पर लगातार निशाना साध रही है। आज से मानसून सत्र (Monsoon Session 2021) भी शुरू हुआ है। इससे पहले एआईएमआईएम नेता ने सरकार पर निशाना साधते हुए कई सवाल किए, तो वहीं कांग्रेस की ओर से भी तीखे सवाल पूछे गए हैं।

Pegasus software पर ओवैसी ने साधा सरकार पर निशाना

ओवैसी ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए पूछा कि, फोन हैकिंग के लिए पेगासस सॉफ्टवेयर हैकिंग है, टैपिंग नहीं. उन्होंने कहा हैकिंग एक अपराध है फिर चाहे ये किसी शख्स ने किया हो या किसी सरकार ने. उन्होंने सरकार से दो टूक शब्दों में कहा कि, सरकार को दो बातें जरूर बतानी होंगी. पहली ये कि क्या उसने एनएसओ स्पाईवेयर का उपयोग किया? क्या सरकार ने न्यूज रिपोर्ट्स में लिए नामों को दायरे में लिया था कि नहीं?

हमें पता है वो क्या पढ़ रहे हैं- राहुल गांधी

वहीं कांग्रेस ने Pegasus software को लेकर सवाल पर निशाना साधा है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी मामले पर ट्वीट कर कहा कि, "हमें पता है वो हमारे फोन में क्या पढ़ रहे हैं।"

क्या है पेगासस सॉफ्टवेयर (What is Pegasus software)

बीते दिन से आप पेगासस स्‍पाईवेयर से जुड़ी कई खबरे पढ़ रहे होंगे। लेकिन आपको पता हैPegasus software कया है और ये सॉफ्टवेयर काम कैसे करता है? दरअसल, पेगासस स्‍पाईवेयर पुराने तरीकों का इस्‍तेमाल नहीं करता है यानी कि यह 'जीरो-क्लिक' अटैक करता है। पेगासस सॉफ्टवेयर को दुनिया का सबसे ताकतवर स्‍पाईवयर कहा जाता है और अगर ये आपके फोन या फिर कंप्यूटर में हौ तो इसका पता लगाना लगभग नामुमकिन है।

 

Related videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept