National Swimmer Gopal Prasad Yadav tea stall चलाकर कर रहे गुजारा | Patna | Bihar

Publish Date: 21 Nov, 2019
 
नाम कमाने में जहां इतना वक्त लग जाता है वहीं गुमनामी में खोने में बस एक पल ही काफी है. कुछ ऐसा ही दृश्य Bihar की राजधानी Patna में देखने को मिलता है. Gopal Prasad Yadav National Level Swimming में कई medals अपने नाम कर चुके हैं लेकिन चाय (tea) बेच कर जीवनयापन करने को मजबूर हैं. उनकी ये स्तिथि खेल (sports) और खिलाड़ियों (players) की बदहाली का एक जीता जागता उदाहरण है. देश के लिए नाम कमाना और फिर अंतरराष्ट्रीय स्तर का तैराक (international swimmers) बनने का गोपाल का सपना सिस्टम असंवेदनशीलता के चलते चकनाचूर हो गये. गोपाल परिवारिक जिम्मेदारियों और आर्थिक बदहाली के कारण चाय बेचने पर मजबूर हैं. इसके लिए वह सरकारी अनदेखी को जिम्मेदार ठहराते हैं. अभी भी इतनी काबिलियत बची है कि मेडल जीतकर ला सकें.
 

Related videos

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept