Night Curfew in Ghaziabad : दिल्ली के बाद गाजियाबाद में आज रात से लागू होगा नाइट कर्फ्यू

Publish Date: 08 Apr, 2021
Night Curfew in Ghaziabad : दिल्ली के बाद गाजियाबाद में आज रात से लागू होगा नाइट कर्फ्यू

Night Curfew in Ghaziabad : कोरोनावायरसस के बढ़ते मामलों को देखते हुए दिल्ली, पंजाब के बाद अब गाजियाबाद में भी नाइट कर्फ्यू लगाने का एलान किया गया है। गाजियाबाद के डीएम अजय शंकर पांडे ने इस बात की जानकार दी है। अजय शंकर पांडे ने कहा कि बृहस्पतिवार शाम को इस संबंध में निर्देश जारी किए जाएंगे। मिली जानाकीर के अनुसार, नाइट कर्फ्यू रात 9:00 बजे से सुबह 7:00 बजे तक लागू किया जाएगा। इस दौरान आपातकालीन सेवाओं वाले लोगों को ही एंट्री मिलेगी और गैर जरूरी सेवाओं वालों को इजाजत नहीं दी जाएगी।

बता दें कि राजधानी लखनऊ, कानपुर और वाराणसी में पहले ही नाइट कर्फ्यू लगाया जा चुका है। सीएम योगी ने 13 जिलों की समीक्षा बैठक की जहां कोरोना के मामले सबसे अधिक सामने आ रहे है। बैठक के बाद फैसला लिया गया कि 500 से अधिक एक्टिव केस होने पर नाइट कर्फ्यू लगाने का फैसला जिला जिलाधिकारी खुद ले सकते हैं।

कोरोना की दूसरी लहर बेकाबू

स्वास्थ्य मंत्रालय  द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार, देश में कोरोना के मामले 1 करोड़ 29  लाख के पार पहुंच चुके हैं। पिछले 24 घंटे में कोरोना  1,26,789 में नए मामले सामने आए हैं। जो अब तक का सबसे बड़ा स्पाइक है। इस दौरान 59,258 मरीज ठीक हो गए और 685 लोगों की मौत हुई है। अब तक मरने वालों की संख्या बढ़कर 1,66,862 हो गई है।

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) की ओर से जारी आंकड़े के मुताबिक, देशभर में कोरोना के लिए 7 अप्रैल तक   25,02,31,269 करोड़ टेस्ट किए गए। जिनमें से एक दिन में 12,11,612 नमूनों की जांच की गई। देश में संक्रमण के मामले बढ़कर 1,29,28,574 हो गए हैं, जिनमें  9,10,319 लोगों का उपचार चल रहा है। 1,18,51,393 लोग उपचार के बाद इस बीमारी से ठीक हो चुके हैं। वहीं देश में वैक्सीनेशन अभियान तेजी से चलाया जा रहा है। अब तक 9 करोड़ 01 लाख 98 हजार 673 को वैक्सीन दी जा चुकी हैं।

Related Videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept