कांग्रेस और RJD ने नीतीश कुमार के शपथग्रहण समारोह का किया बहिष्कार – Watch Video

Publish Date: 16 Nov, 2020 |
 

कुछ देर में नीतिश कुमार का शपथ ग्रहण समारोह शुरू होने वाला है। नीतिश फिर एक बार बार सीए पद की शपत लेंगे। राज्यपाल फागू चौहान सीएम को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाएंगे। उनके साथ कई मंत्री शपथ ले सकते हैं। शपथ ग्रहण समारोह में जेपी नड्डा, देवेंद्र फडणवीस और अमित शाह शामिल होने वाले हैं। इसी बीच खबर आई है कि, कांग्रेस और राष्‍ट्रीय जनता दल ने नीतिश कुमार के शपथ ग्रहण समारोह का बहिष्कार करने का फैसला लिया है। RJD ने Tweet किया  "राजद शपथ ग्रहण का बायकॉट करती है। बदलाव का जनादेश NDA के विरुद्ध है। जनादेश को शासनादेश से बदल दिया गया। बिहार के बेरोजगारों, किसानों, संविदाकर्मियों, नियोजित शिक्षकों से पूछे कि उनपर क्या गुजर रही है। NDA के फर्ज़ीवाड़े से जनता आक्रोशित है। हम जनप्रतिनिधि है और जनता के साथ खड़े है।" वहीं बीजेपी अध्‍यक्ष जेपी नड्डा एवं गृहमंत्री अमित शाह पटना एयरपोर्ट पहुंचे चुके हैं। अब दोनों शपथ ग्रहण में शामिल होने के लिए  राजभवन जा रहे हैं। आपको बता दें कि रविवार को NDA की बैठक में नीतीश कुमार को विधायक दल का नेता चुन लिया गया है। BJP के दिग्गज नेता और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने नीतीश के नाम की घोषणा की। इसी बीच नीतीश कुमार, जीतन राम मांझी, मुकेश साहनी और संजय जायसवाल भी राजभवन पहुंचे और सरकार बनाने का दावा रखा है। 126 विधायकों का समर्थन पत्र राज्यपाल को सौंप दिया गया है। जिसके बाद आज Nitish Kumar आज मुख्यमंत्री पद की '7वीं बार शपथ लेने का रिकॉर्ड बनाने जा रहे हैं। बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह सोमवार को पटना में जदयू प्रमुख और बिहार के सीएम नीतीश कुमार के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होंगे। नीतीश कुमार आज बिहार के 37वें सीएम के तौर पर शपथ लेने जा रहे हैं। नीतीश ने पहली बार साल 2000 में सीएम पद की शपथ ली थी। लेकिन उस वक्त वो बहुमत नहीं साबित कर पाए थे और 7 दिनों में ही इस्तीफा देना पड़ा था। 2005 में बीजेपी के साथ मिलकर चुनाव लड़ा और पूर्ण बहुमत की सरकार बनाई। इसके बाद 2010 में तीसरी बार नीतीश बिहार के सीए बने। 22 फरवरी 2015 को नीतीश ने चौथी बार सीएम पद की शपथ ली। नीतीश ने आरजेडी के साथ गठबंधन चुनाव लड़ा था लेकिन थोड़े दिन बाद ही उन्होंने ने इस्तेफा दे दिया और बाद 20 नवंबर 2015 को पांचवी बार सीएम पद की शपथ ली। नीतीश ने आरजेडी का साथ छोड़कर बीजेपी का हाथ थाम लिया और 27 जुलाई 2017 को छठी बार सीएम पद की शपथ ली। 2020 में विधानसभा चुनाव जीतने के बाद नीतीश ने आज 7वीं बार सीएम पद की शपथ लेने जा रहे हैं। जो कि एक रिकॉर्ड है। इस खबर के बारे में और अधिक जानने के लिए देखिए ये Video..

 

Related videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept