Patanjali Corona Medicine: पतंजलि के Coronil Medicine पर आयुष मंत्रालय ने क्यों लगाई रोक, जांच के लिए मांगी जानकारी - Watch Video

Publish Date: 24 Jun, 2020
 
Patanjali Corona Medicine: देश-विदेश में कोरोना वायरस दवा (Coronavirus Medicine) और वैक्‍सीन बनाने की होड़ लगी है। लेकिन अभी तक कोई भी सटीक वैक्सीन या दवा इसके इलाज के लिए नहीं बनी है। इसी कड़ी में पतंजलि आयुर्वेद के चीफ और योग गुरु बाबा रामदेव ने कोरोना वायरस से बचाव के लिए कोरोनिल नामक आयुर्वेदिक दवा लॉन्च करते हुए दावा किया कि इससे कोरोना के मरीज ठीक हो रहे हैं। यह खबर सुन के लोगों में खुशी दिखी। लेकिन बता दें कि आयुष मंत्रालय ने पतंजलि को दवा के प्रचार को रोकने के लिए कह दिया। इसके साथ ही रिसर्च डिटेल भी मांगी गई है। आयुष मंत्रालय ने कहा है कि यह रोक तब त‍क रहेगी जब तक कि इस मुद्दे की विधिवत जांच नहीं हो जाती। मंत्रालय ने COVID -19 के उपचार के लिए दावा की जा रही आयुर्वेदिक दवाओं के लाइसेंस और उत्पाद संबंधित अनुमति की जानकारी उपलब्ध कराने के लिए उत्तराखंड सरकार के संबंधित राज्य लाइसेंसिंग प्राधिकरण से अनुरोध किया है। आपको बता दें कि बता दें कि दवा के लॉन्चिंग के मौके पर पतंजलि के मैनेजिंग डायरेक्टर आचार्य बालकृष्ण ने दावा किया था कि यह दवा 3-14 दिनों के अंदर कोरोना पीड़ित मरीजों का इलाज कर सकेगी। हरिद्वार स्थित पतंजलि योगपीठ में लॉन्चिंग के दौरान बाबा रामदेव ने कहा कि कोरोनिल दवा का जिन कोरोना मरीजों पर ट्रायल किया गया, उनमें 69 फीसदी मरीज केवल तीन दिनों में ही पॉजीटिव से निगेटिव और सात दिन के अंदर 100 फीसदी रोगी संक्रमण से मुक्त हो गए।
 

Related videos

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept