Delhi Election 2020 : Arvind Kejriwal कैसे जीतेंगें Delhi की 70 सीट, बताया Raghav chadha ने | Exclusive Interview | Rajinder nagar

Publish Date: 20 Jan, 2020
 
Raghav Chadha Interview : दिल्‍ली विधानसभा चुनाव (delhi assembly election 2020) में इस बार राजेंद्र नगर सीट (rajinder nagar constituency) आम आदमी पार्टी (aam aadmi party) ने राघव चड्ढा (Raghav Chadha) को मैदान में उतारा है। आखिर वह इस सीट से चुनाव क्‍यों लड़ रहे हैं, उनके इस बार मुद्दे क्‍या हैं। कृष्‍ण कुमार के साथ इस इंटरव्‍यू में उन्‍होंने बताया कि उनका परिवार इस जगह से पिछले 60 से 70 सालों से रह रहा है। गंगाराम अस्‍पताल में उनका जन्‍म हुआ। राजेंद्र नगर से ही ताल्‍लुक रखते हैं। वहीं नारायणा इलाके में उनका ननिहाल है । लोकसभा चुनाव में आखिर क्‍या गलत हो गया था, इस पर उन्‍होंने कहा कि वह राष्‍ट्रीय चुनाव था। लेकिन इस बार चुनाव स्‍थानीय है, तब लोग प्रधानमंत्री चुनने के लिए वोट कर हे थे। लेकिन इस बार चुनाव दिल्‍ली के सीएम को चुनने के लिए है। ऐसे में जनता को अच्‍छी तरह मालूम है कि अरविंद केजरीवाल के अलावा कोई दूसरा विकल्‍प दिल्‍ली में नहीं हैं। राघव ने बताया कि नेशनल और स्‍टेट चुनाव अलग होते हैं। आम आदमी पार्टी का मुकाबला किससे हैं, इस पर उन्‍होने कहा कि इस बार चुनाव में आम आदमी पार्टी आगे है, कांग्रेस चुनावों में गायब हैं। बीजेपी चुनावों में मीलों पीछे हैं। हमारे पास अरविंद केजरीवाल के रूप में कद्दावर नेता है। लेकिन दूसरी पार्टियों के पास ऐसा कोई नेता नहीं हैं। जहां तक बात है 15 विधायकों के टिकट कटने की, यहां कोई नाराजगी नहीं हैं। यहां सब कुछ ठीक है। राघव से जब पूछा गया कि राजेंद्र नगर में ही कुछ लोग बिजली बिल के यूनिट चार्ज से नाराज हैं। इनमें किरायदारों की संख्‍या ज्‍यादा है। इस पर उन्‍होंने कहा कि किरायदारों के लिए प्रीपेड बिजली मीटर योजना लागू की है। इसका प्रचार प्रसार उतना नहीं हो पाया है। जितना होना चाहिए था। आखिर प्रशांत किशोर के प्रचार में जुड़ने से आम आदमी पार्टी कितना फायदा होगा, इस पर उन्‍होंने कहा कि चुनावी कैंपेन में उनके आने से फायदा हैं। वहीं उन्‍होंने बीजेपी और आम आदमी पार्टी के बीच जो सोशल मीडिया पर जो वार चल रहा है, उसको कैसे देखते हैं। इस पर उन्‍होंने कहा कि यह मिलेनियल्‍स मतदाताओं को रिझाने का एक तरीका है। ऐसे में ये हंसी मजाक चलती रहती रहनी चाहिए। राजनीति में हम लोग काफी सीरियस हो गये हैं, ऐसे में यह सब होते रहना चाहिए।
 

Related videos

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept