राजकीय सम्मान के साथ आज होगा Raghuvansh Prasad Singh का अंतिम संस्कार – Watch Video

Publish Date: 14 Sep, 2020
 

13 सितंबर को पूर्व केंद्रीय मंत्री और पूर्व राजद नेता रघुवंश प्रसाद सिंह का नई दिल्ली के एम्स में निधन हो गया। अनुभवी नेता के नश्वर अवशेषों को स्थानीय नेताओं और परिवार के सम्मान के लिए दिल्ली से पटना लाया गया। आज नेता का अंतिम संस्कार उनके पैतृक गांव में किया जाएगा। वैशाली जिले के हसनपुर घाट पर राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा। वैशाली में उनका पार्थिव शरीर जगह-जगह जनता के दर्शन के लिए ले जाते हुए पैतृक गांव शाहपुर ले जाया जा रहा है। वहीं से उनके अंतिम यात्रा शुरू की जाएगी। उनका पार्थिव शरीर रविवार की शाम में पटना लाया गया, जिसे विधानसभा परिसर ले जाया गया। जहां मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी, उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव सहित विभिन्न दलों के नेताओं और पदाधिकारियों ने उन्हें पुष्पांजलि अर्पित की। बता दें कि 74 वर्षीय रघुवंश प्रसाद को एम्स की आईसीयू वार्ड में वेंटिलेटर पर रखा गया था और एक सप्ताह से अधिक समय से उनका इलाज चल रहा था। जून में, उन्हें COVID-19 Test Postive  आया था। अभी कुछ दिन पहले ही RJD की ओर से उनके इस्तीफे की घोषणा करने के बाद उन्होंने एक पत्र लिखा था। उन्होंने पत्र में लालू प्रसाद को संबोधित करते हुए लिखा, "कर्पूरी ठाकुर के निधन के बाद 32 वर्षों तक आपके पीठ पीछे खड़ा रहा, लेकिन अब नहीं" रघुवंश प्रसाद सिंह 15 वीं लोकसभा में सांसद थे और बिहार के वैशाली निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते थे। उन्होंने पिछले महीने तक आरजेडी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के रूप में भी काम किया, सिंह ने तीन कार्यकाल के लिए केंद्रीय मंत्री के रूप में भी काम किया, मनमोहन सिंह के यूपीए 1 के दौरान अंतिम रूप से ग्रामीण विकास मंत्री रहे। उन्हें यूपीए 1 के तहत नरेगा योजना में लाने का श्रेय दिया जाता है। भले ही उन्होंने रिकॉर्ड पांच बार बिहार के वैशाली निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व किया, लेकिन वे वैशाली से लगातार दो चुनाव 2014 और 2019 में हारे थे।

 

Related videos

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept