Sugar free Sweets: दिवाली में कम से कम करें चीनी का सेवन, मिठाई नहीं, चुनें ये हेल्दी ऑप्शन्स- Watch Video

Publish Date: 13 Nov, 2020 |
 

Sugar free Sweets: 14 नवंबर यानी की कल दिवाली मनाई जाएगी। इस दिन लोग ढेर सारी मिठाइयों के साथ अपने घरों के दीये से सजाएंगे। लेकिन आप इन सबके बीच ये न भूलना की अगर आपको Diabetes है तो आपको खास ध्यान देना है। जो डायबिटीज के मरीज है वो खास करके मिठा खाने पर कंट्रोल करें। डायबिटीज के मरीजों में खाने से मिलने वाली शुगर को एनर्जी में बदलने वाला सिस्टम ठीक से काम नहीं करता। इसको इंसुलिन रेजिस्टेंस के नाम से जाना जाता है। बता दें डायबिटीज होने की वजह सिर्फ ज्यादा मीठा खाना ही नहीं होता, अगर आप जरूरत से ज्यादा खा रहे हैं और आपका वजन बढ़ता जा रहा है तो ये भी डायबिटीज होने का ही संकेत है। अगर आपके परिवार में किसी को डायबिटीज है तो जेनेटिक कारणों से भी आपको डायबिटीज हो सकती है। बता दें कि बिना चीनी वाले मिठाइयों में सबसे पहले आर्टिफिशियल स्वीटनर का नाम आता है। डायबिटीज के मरीज आर्टिफिशियल स्वीटनर का ही इस्तेमाल करते हैं। हालांकि इसके सीमित इस्तेमाल की ही सलाह दी जाती है। इसके ज्यादा प्रयोग से कई लोगों का शुगर लेवल बढ़ जाता है। वैसे तो इसे लेने के लिए कोई भी एक आदर्श या सामान्य खुराक तय नहीं होती है। इसके ज्यादा इस्तेमाल से आपके किडनी पर बुरा असर पड़ सकता है। शहद मीठे का सबसे अच्छा विकल्प है। लेकिन बाजार में बिकने वाले शहद में चीनी की मिलावट होती है। इसके प्रयोग से हमें बचना चाहिए। डायबिटीज के मरीज शहद का इस्तेमाल सिमित मात्रा में कर सकते हैं। शहद का ग्लाइसेमिक इंडेक्स चीनी और शक्कर या गुड़ के मुकाबले में काफी कम होता है। कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाला भोजन ही डायबिटीज वाले मरीजों के लिए बेहतर माना जाता है। 





 

 




 

 

Related videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept